ताज़ा खबर :
prev next

संदिग्ध हालत में महिला आग से झुलसी, हालत गंभीर

गाज़ियाबाद। लोनी थाना क्षेत्र अंतर्गत एक महिला संदिग्ध हालात में जल गई। दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में उसे भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं, महिला के परिजनों का आरोप है कि दो बेटी होने पर ससुरालवालों ने उसे मिट्टी का तेल डालकर जलाया है। अभी परिजनों ने पुलिस से मामले की शिकायत नहीं की है।

मूल रूप से शामली के कांधला कस्बे के रहने वाले यामीन ने 2016 में अपनी बेटी नवाबन (25) का निकाह मेरठ के फारुख से किया था। नवाबन की दो साल की एक बेटी है। दो माह पूर्व एक और बेटी पैदा हो गई। तीन महीने से टीला गांव में झूले के पास की टेंट लगाकर रहते हैं। नवाबन के भाई कमल एवं नूर मोहम्मद ने बताया कि दोनों परिवार साथ में ही झूले लगाने का काम करते हैं।

शुक्रवार को महिलाएं टेंट में खाना बना रही थीं। इसी दौरान नवाबन की ननद एवं उसकी तलाकशुदा बेटी से कहासुनी हो गई। आरोप है कि उन्होंने नवाबन के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। नवाबन चीखी चिल्लाई तो पति व अन्य लोगों को घटना की जानकारी हुई। लोगों ने आनन-फानन में महिला के ऊपर पानी एवं कंबल आदि डालकर आग बुझाई।

परिवार के लोगों महिला को लोनी स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर ले गए। चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद दिल्ली के जीटीबी अस्पताल रेफर कर दिया, जहां से उसे राममनोहर लोहिया अस्पताल भेज दिया गया। महिला की हालत नाजुक बताई जा रही है। मायकेवालों का आरोप है कि निकाह के बाद उसकी बहन ने दो बेटियों को जन्म दिया था। उसकी ननद एवं घर की अन्य महिलाएं उसे बेटी को लेकर ताना मारती थीं। उसका कहना है कि अस्पताल से आने के बाद वह शनिवार को ननद आदि के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराएंगे। पुलिस क्षेत्राधिकारी दुर्गेश कुमार ने बताया कि तहरीर मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

 

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।