ताज़ा खबर :
prev next

सभी को चाहिए साफ सुथरी चौड़ी सड़कें मगर कैसे मिले अतिक्रमण से मुक्ति जब व्यापारी ही कर रहे हैं विरोध

गाज़ियाबाद | नगर निगम इन दिनों शहर की सड़कों को अतिक्रमण से मुक्त करने के बाद उनकी साफ-सफाई कर शहर के सौंदर्यकरण में लगा है। लेकिन खुद गाज़ियाबाद के कुछ निवासियों और छुटभैये नेता का शायद यह मानना है कि भले ही शहर की जनता को लाख परेशानियों से होकर गुजरना पड़े, मगर वे अवैध कब्जे हटाने से बाज नहीं आएंगे।

जिला प्रशासन की ओर से शहर के विभिन्न बाज़ारों में सड़कों के किनारे पर दोनों ओर एक लाल पट्टी खींची जा रही है और दुकानदारों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपनी दुकानें इस लाल पट्टी के बाहर न बढ़ाएँ। इसी प्रकार नागरिकों को भी निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने वाहन इस लाल पट्टी के भीतर ही खड़े करें ताकि सड़कों पर ट्रैफिक जाम न लगे और निगम को भी सड़कों की साफ-सफाई में आसानी हो। मगर बाजारों को अतिक्रमणमुक्त कराने की इस मुहिम के विरोध में अब चौपला बाजार के व्यापारी भी सड़क पर उतर आए हैं। दिल्ली गेट से चौपला बाजार तक नाले पर खीची गई पट्टी के विरोध में बाजार के सभी व्यापारी दुकान बंद करके धरने पर बैठ गए और नगर निगम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। व्यापारियों ने बाजार में लाल पट्टी नहीं खींचने दी। साथ ही चेतावनी दी कि यदि बाजार में किसी प्रकार की कार्रवाई की गई तो पूरा बाजार बंद कर दिया जाएगा। वोट बैंक के लालच में कई स्थानीय पार्षद भी इस गैरकानूनी हरकत में व्यापारियों का साथ दे रहे हैं।

प्रशासन के आदेश पर शहर में अंबेडकर रोड, जीटी रोड, तुराबनगर, किराना मंडी बाजार में आदि स्थानों पर लाल पट्टी खींची जा चुकी है और यहाँ से लगातार अतिक्रमण हटाया जा रहा है। इन बाज़ारों में बड़ी संख्या में दुकानदारों ने नाले को पाटकर उसपर दुकानें बना दी है। कई दुकानदारों ने तो नाले को ऊपर ही दुकान बना ली है। अब प्रशासन की सख्ती के बाद दुकानदारों को नाले को अतिक्रमणमुक्त करना पड़ा रहा है। जाहिर है प्रशासन की इस कार्रवाई से वे दुकानदार काफी परेशान हैं जिन्होंने अपनी दुकानों और मकानों के आगे कई फुट तक सरकारी जमीन पर अतिक्रमण किया हुआ है। देखना यह होगा कि गाज़ियाबाद के नागरिक कब तक अवैध अतिक्रमण के मुद्दे पर सोते रह कर इन अतिक्रमणकारियों और छुटभैये नेताओं को अपना मौन समर्थन देते रहेंगे।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel