ताज़ा खबर :
prev next

जिला एमएममजी अस्पताल में हीमोफीलिया का इलाज शुरू

गाज़ियाबाद। जिला एमएमजी अस्प्ताल में बृहस्पतिवार से हीमोफीलिया का उपचार शुरू होने के साथ ही पहला फैक्टर 8 नंदग्राम में रहने वाले में नौ वर्षीय बच्चे को दिया गया। बच्चे के पिता किशन ने बताया कि अभी तक बच्चे में रक्तस्त्राव होने पर लेकर दिल्ली भागना पड़ता था। आज आठ साल में पहली बार समय पर उपचार मिल पाया। पहली बार फैक्टर देने के दौरान बाल रोग विशेषज्ञ डा. विपिन चंद्र, मनोचिकित्सक डा. एके विश्वकर्मा, चीफ फार्मासिस्ट एसपी वर्मा सहित अन्य स्टाफ की देखरेख में बच्चे को फैक्टर चढ़ाया गया।

डा. एके विश्वकर्मा ने बताया कि नौ वर्षीय बच्चे के बाएं हाथ में कुहनी पर आंतरिक स्त्राव होने से सूजन आ गई थी। ऐसे में बच्चे को तत्काल फैक्टर चढ़ाया जाना जरूरी था। बच्चे के पिता किशन दोपहर 12.30 बजे अस्पताल में आए थे। फैक्टर चढ़ाने के बाद आधा घंटे बाद डिस्चार्ज कर दिया गया था। उसे तीन दिन लगातार फैक्टर चढ़ाया जाएगा। किशन का कहना था मेरे जैसे सैकड़ों लोग ऐसे हैं जो फैक्टर के लिए इधर से उधर भटकते रहते हैं।

 

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।