ताज़ा खबर :
prev next

अभिव्यक्ति

पैदा करने वाली माँ ने फेंक दिया था कुढ़े के ढेर में, 27 साल की अनब्याही लड़की बनी बच्चियों की माँ

वह पढ़ने के लिए लड़ी, शादी न करने के लिए लड़ी, डॉक्‍टर बनने के लिए लड़ी और फिर दो बच्चियों की बिनब्‍याही मां बनने के लिए लड़ी। पढ़िए कहानी बिना शादी दो लड़कियों को गोद लेने वाली डॉ. कोमल यादव … Continue reading “पैदा करने वाली माँ ने फेंक दिया था कुढ़े के ढेर में, 27 साल की अनब्याही लड़की बनी बच्चियों की माँ”


बच्चों से मातृभाषा में बातें करने से बुद्धि का होता है तेज़ी से विकास

अब इसे सैंकड़ों सालों की गुलामी का असर कहें या कुछ और, हम हिंदुस्तानियों में अपने बच्चों को अँग्रेजी सिखाने की होड़ लगी रहती है। मेहमानों के सामने बच्चों से अँग्रेजी में बात करना शान की बात समझी जाती है। … Continue reading “बच्चों से मातृभाषा में बातें करने से बुद्धि का होता है तेज़ी से विकास”


क्यों कांग्रेस के लिए भारी है गले मिलना? राहुल के बाद सिद्धू फंसे गले लगाकर

किसी से भी गले मिलना बहुत अच्छी बात है लेकिन कांग्रेस पार्टी के लिए गले लगाना एक मुसीबत बनाता जा रहा है। पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को गले लगाने के बाद आँख मरने के कारण आलोचना … Continue reading “क्यों कांग्रेस के लिए भारी है गले मिलना? राहुल के बाद सिद्धू फंसे गले लगाकर”


क्यों मजबूर हुए एथिस्ट सीताराम येचूरी कलश यात्रा के लिए, जानिए इस वायरल तस्वीर के पीछे का सच

कम्युनिस्ट पार्टियों द्वारा केरल में “रामायण माह” मनाने के फैसले के कुछ दिन बाद ही सीपीआई (एम) के राष्ट्रीय महासचिव सीताराम येचूरी की एक ऐसी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमें वे सर पर फूलों से भरा … Continue reading “क्यों मजबूर हुए एथिस्ट सीताराम येचूरी कलश यात्रा के लिए, जानिए इस वायरल तस्वीर के पीछे का सच”


और कितना अपमानित करोगे राष्ट्रध्वज को

गाज़ियाबाद के बुलंदशहर रोड औद्योगिक क्षेत्र में स्थित श्यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क में आज सुबह एक बार फिर से फटा हुआ झण्डा लहरा रहा था। हालांकि सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद निगम ने झण्डा बदलवा दिया मगर, … Continue reading “और कितना अपमानित करोगे राष्ट्रध्वज को”


अनोखा स्कूल जहां बच्चे स्कूल नहीं, स्कूल बच्चों के घर पर आता है

मुंबई | मुंबई की झुग्गी-झोंपड़ियों में कुछ ऐसे स्कूल चलाए जा रहे हैं जो सभी पारंपरिक स्कूलों से अलग है। इन स्कूलों में बच्चे पढ़ने के लिए नहीं जाते बल्कि यह बच्चों को पढ़ाने के लिए ये स्कूल उनके घरों … Continue reading “अनोखा स्कूल जहां बच्चे स्कूल नहीं, स्कूल बच्चों के घर पर आता है”


जानिए क्यों जरूरी है एक्सीडेंट के बाद तुरंत मेडिकल चैकअप कराना

गाज़ियाबाद | पुणे के रहने वाले 36 वर्षीय धीरेन तिवारी बीते शनिवार जब घर लौट रहे थे तो उनकी कार सामने से आती एक बस से टकरा गई। गलती बस वाले की थी क्योंकि वह एक नो-एंट्री वाली सड़क पर … Continue reading “जानिए क्यों जरूरी है एक्सीडेंट के बाद तुरंत मेडिकल चैकअप कराना”


माथे पर तिलक लगाने की रस्म लोगों को नरक में भेजती है – इलियास शराफुद्दीन

गाज़ियाबाद | यदि बिना किसी मुद्दे के विवाद खड़ा करना एक कला है तो संभवतः भारतीय मीडिया इस कला में विश्व भर में सबसे पारंगत है। हमारे देश की मीडिया न सिर्फ आधारहीन मुद्दे को विवाद का रूप देने में … Continue reading “माथे पर तिलक लगाने की रस्म लोगों को नरक में भेजती है – इलियास शराफुद्दीन”


क्या सच में भारतीय महिलाएं विश्व में सबसे असुरक्षित हैं? जी नहीं, जानिए क्यों

गाज़ियाबाद | क्या आप जानते हैं कि सऊदी अरब में ख़रीदारी करते समय महिलाएं कपड़े ट्राई नहीं कर सकती हैं? कारण – वहाँ के पुरुष बंद ड्रेसिंग रूम के अंदर भी किसी महिला का निर्वस्त्र होना सहन नहीं कर सकते। … Continue reading “क्या सच में भारतीय महिलाएं विश्व में सबसे असुरक्षित हैं? जी नहीं, जानिए क्यों”


निगम का बस चले तो फ़्लाइओवर पर भी बना दें “सार्वजनिक शौचालय”

गाज़ियाबाद | काफी समय पहले की बात है उस समय देश में इन्दिरा गांधी का राज था। हरित मिशन के तहत वर्ल्ड बैंक ने राजस्थान सरकार को रेगिस्तानी वातावरण के अनुकूल कीकर आदि के पेड़ लगाने के लिए बीज और … Continue reading “निगम का बस चले तो फ़्लाइओवर पर भी बना दें “सार्वजनिक शौचालय””


बाल कट कर लोगों की जिंदगी बदल रहे हैं गोरखपुर के आजाद पांडेय

गाज़ियाबाद | हम लोग अकसर सड़क के किनारे मैले कुचैले, बढ़े हुए बाल वाले व्यक्तियों को पागल समझने की गलती कर बैठते हैं। ऐसे लोगों को हम अपने पास आते देखकर कई बार उन्हें दुत्कार कर भगा भी देते हैं। … Continue reading “बाल कट कर लोगों की जिंदगी बदल रहे हैं गोरखपुर के आजाद पांडेय”


मासूमों से दरिंदगी आखिर कब तक.. ?

गाज़ियाबाद। 8 साल की बच्ची को अगवा कर मंदिर में सामूहिक बलात्कार किया जाता है , उसकी नृशंस ह्त्या कर दी जाती है और ये सब वहां रह रहे अल्पसंख्यक समुदाय को वहां से भगाने की साजिश के तहत किया … Continue reading “मासूमों से दरिंदगी आखिर कब तक.. ?”


बड़ी आतंकी वारदात को न्योता दे रहे हैं गाज़ियाबाद जंक्शन के रेलवे अधिकारी

गाज़ियाबाद | राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के सबसे संवेदनशील रेलवे स्टेशनों में से एक गाज़ियाबाद रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुरक्षा राम भरोसे ही चल रही है। कहने को यहाँ बैगेज स्कैनर लगे हैं, मगर गेट पर सुरक्षाकर्मी के न होने … Continue reading “बड़ी आतंकी वारदात को न्योता दे रहे हैं गाज़ियाबाद जंक्शन के रेलवे अधिकारी”


महिलाओं की पुकार- नहीं चाहिये सिर्फ एक दिन का सम्मान

नई दिल्ली। 8 मार्च यानि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस को सभी लोग अपनी मां, बहन, पत्नी, बेटी और महिला दोस्तों को शुभकामनाएं देते हैं लेकिन क्या सच में महिलाओं का असल जिंदगी में सम्मान किया जा रहा है। केवल एक दिन महिला दिवस की … Continue reading “महिलाओं की पुकार- नहीं चाहिये सिर्फ एक दिन का सम्मान”


कागजों में जल रही ट्रैफिक लाइट्स, कैसे चमकेगा शहर

गाज़ियाबाद। शहर की ख़राब पड़ी ट्रैफिक सिग्नल लाइट, सुस्त प्रशासन और भ्रष्टाचारी अधिकारियों की लापरवाही दर्शा रही है। नगर निगम द्वारा शहर के विभिन्न चौराहों व सड़कों पर ट्रैफिक सिग्नल लाईट लगाने के लिए करोड़ों रूपये खर्च किये गए हैं। इसके … Continue reading “कागजों में जल रही ट्रैफिक लाइट्स, कैसे चमकेगा शहर”