ताज़ा खबर :
prev next

देर रात हुई मुठभेड़ के बाद पार्षद पति का हमलावर गिरफ्तार, आपसी रंजिश का था मामला

गाजियाबाद | सोमवार रात को हुई एक मुठभेड़ के बाद गाज़ियाबाद पुलिस ने पार्षद पति अनुज चौधरी के एक हमलावर को गिरफ्तार कर लिया है। मुठभेड़ में इस शार्प शूटर के पैर और सिहानी गेट थाना प्रभारी विनोद पांडेय के हाथ में गोली लगी है। दोनों घायलों को स्थानीय अस्पताल में भरती करा दिया गया है। मुठभेड़ के दौरान अनूप चौधरी पर हमला करने वाला मुख्य शूटर पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गया जिसकी तलाश जारी है।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि सोमवार दोपहर पुलिस ने हमले में नामजद मुख्य आरोपित शेखर के बेटे विशाल, भाई बॉबी, ममेरे भाई योगेंद्र उर्फ टुंडा व घटना में मुखबिरी करने वाले विकास को गिरफ्तार कर उनके पास से तीन तमंचे, एक पिस्टल व पार्षद पति से लूटी गई रिवाल्वर बरामद की। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि घटना के शूटर लोनी क्षेत्र में छिपे हैं। पुलिस ने कई टीमों का गठन कर छापेमारी की तो बदमाश मोटरसाइकिल पर फरार हो गए। पुलिस ने पीछा कर दोनों बदमाशों को सिहानी गेट थाना क्षेत्र के अटोर नंगला में घेरा लिया। इस दौरान बदमाशों ने पुलिस पर आठ राउंड फायरिंग की। जवाब में पुलिस ने भी चार राउंड फायर किए। मुठभेड़ के दौरान एक बदमाश के दाहिने पैर व सिहानी गेट थाना प्रभारी के हाथ में गोली लगी।

एसएसपी ने बताया कि पकड़ा गया बदमाश मूलरूप से कासगंज का रहने वाला रोहित यादव है। वह फिलहाल लोनी में रह रहा था। रोहित पर पूर्व में लोनी से गैंगस्टर की कार्रवाई हो चुकी है और वह लोनी क्षेत्र से पूर्व में अजय नामक युवक की हत्या में जेल जा चुका है। जेल में ही उसकी मुलाकात मामले के मुख्य आरोपित शेखर से हुई थी। वहीं शेखर ने अनुज की हत्या की सुपारी सात लाख रुपये में दी थी। पांच लाख रुपये योगेंद्र उर्फ टुंडा की मार्फत दिलवा दिए थे। जबकि दो लाख रुपये काम पूरा होने के बाद देने का वादा हुआ था। चार माह पूर्व ही राहुल ने जेल से छूटने के बाद हत्या की साजिश रची थी और हमला किया।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel