ताज़ा खबर :
prev next

डाटा चुराने वाली कंपनी कैम्ब्रिज एनालिटिका से मिले थे राहुल गांधी, ₹2.5 करोड़ का दिया था ऑफर

केंब्रिज एनालिटिका पर आरोप है कि कंपनी ने लोकप्रिय सोशल मीडिया नेटवर्क फेसबुक के यूजर्स का डाटा चुरा कर उसका उपयोग कुछ राजनैतिक दलों के प्रचार के लिए किया था।

गाज़ियाबाद | सोशल मीडिया से डाटा चुराकर उसका राजनैतिक हवा बांधने में इस्तेमाल करने वाली ब्रिटेन की राजनीतिक परामर्श फर्म कैम्ब्रिज एनालिटिका ने पिछले साल राहुल गांधी समेत कांग्रेस के कुछ और नेताओं से मुलाकात की थी और 2019 के लोकसभा चुनावों की हवा सोशल मीडिया के आंकड़ों के जरिये उसकी तरफ मोड़ने का प्रस्ताव दिया था। अँग्रेजी समाचार चैनल एनडीटीवी के मुताबिक उसके हाथ ऐसे दस्तावेज लगे हैं जिनसे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कैम्ब्रिज एनालिटिका के निलंबित सीईओ अलेक्जेंडर निक्स की मुलाकात की बात सही साबित होती है।

रिपोर्ट के मुताबिक अलेक्जेंडर ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्रियों जयराम रमेश और पी चिदंबरम से भी मुलाकात की थी। अलेक्जेंडर ने कांग्रेस से इस काम के ढाई करोड़ रुपये मांगे थे। चैनल ने कहा है कि सूत्रों ने कंपनी के साथ कांग्रेस नेताओं की मुलाकात की पुष्टि की लेकिन किसी तरह के समझौते की बात से इनकार किया है। कांग्रेस के डेटा एनालिटिक्स डिपार्टमेंट के प्रमुख प्रवीण चक्रवर्ती ने कहा- ”कॉमर्शियल प्रपोजल पर बात करने या संबंधित कंपनी के अधिकारियों के साथ बैठक करने का यह मतलब नहीं कि संबंधित कंपनी और पार्टी के बीच अपने आप कोई समझौता हो जाए।”

चैनल ने दावा किया है कि उसके पास मौजूद जानकारी के मुताबिक पिछले वर्ष अक्टूबर और नवंबर में कैम्ब्रिज एनालिटिका ने कांग्रेस के सामने प्रस्ताव रखा था। 50 पेज के इस प्रस्ताव पर अगस्त 2017 की तरीख दर्ज है और शीर्षक में “Data-Driven Campaign | The Path to the 2019 Lok Sabha” लिखा है। इस प्रस्ताव में कहा गया था कि कंपनी फेसबुक और ट्वीटर के आधार पर वोटरों की जानकारी जुटाकर 2019 के लोकसभा चुनाव में उनका रुझान कांग्रेस की तरफ मोड़ सकती है। चैनल ने सूत्रों के हवाले कहा है कि कैम्ब्रिज एनालिटिका के इस प्रस्ताव को कांग्रेस ने ठुकरा दिया था, इसकी वजह यह थी कि पार्टी कैम्ब्रिज एनालिटिका को ‘राइट विंग’ समझ रही थी और उसे आशंका थी कि वह कहीं कांग्रेस में ही सेंध न लगा दे।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel