ताज़ा खबर :
prev next

गजब है गाज़ियाबाद पुलिस, शिकायत थी शराबियों से – छीन ली गरीबों से रोजी-रोटी

गाज़ियाबाद | अभी तीन दिन पहले हमने गाज़ियाबाद में नासिरपुर और राज नगर रेलवे क्रॉसिंग पर पुलिस के संरक्षण में सड़कों पर चल रहे मयखानों के बारे में खबर छापी थी। इसके जवाब में गाज़ियाबाद पुलिस के आला अधिकारियों ने पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोई कार्यवाही करने के बजाए उन गरीबों की दुकानें ही उजाड़ दीं जिन पर लोग जबर्दस्ती आकर शराब पीते थे।

मज़े की बात यह है कि पुलिस की यह इकतरफा कार्यवाही भी सिर्फ नासिरपुर रेलवे क्रॉसिंग के पास वाले दुकानदारों पर ही हुई। राज नगर रेलवे क्रॉसिंग वाले ठिकाने पर शराबियों की महफिल बादस्तूर सज रही है जिसको देख कर लगता है कि यहाँ की दुकानें या तो पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों की हैं, या फिर पुलिस वाले मोटी कमाई और मुफ्त के खाने का मोह नहीं छोड़ पा रहे हैं।

होना तो यह चाहिए था कि पुलिस के आला अधिकारी सबसे पहले कवि नगर और सिहानी गेट थानों के उन पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही करते जिन के संरक्षण में शराबियों का जमघट लगता है। उसके बाद उन पियक्कड़ों को पकड़ कर जेल भेजा जाना चाहिए था जो खुले आम सड़क पर शराब पीकर हंगामा करते और आती-जाती महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करते हैं। लेकिन पुलिस की कार्यवाही का शिकार बने वे गरीब दुकानदार जो सड़क के किनारे अंडे, पकौड़े और खाने का सामान बेच कर ईमानदारी से अपने परिवार का पेट भर रहे थे।

अपने शहर की कानून व्यवस्था को बेहतर करने के लिए “हमारा गाज़ियाबाद” की टीम गाज़ियाबाद के जागरूक नागरिकों के साथ मिलकर सड़कों पर चल रहे अवैध मयखानों और उत्पाती शराबियों के विरुद्ध अपनी मुहिम को लगातार जारी रखेगी। लेकिन हम पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों से अनुरोध करते हैं कि सड़क पर शराब पीने वालों के साथ-साथ इनको संरक्षण देने वाले पुलिसकर्मियों पर भी सख्त कार्यवाही हो।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel