ताज़ा खबर :
prev next

शर्मनाक- सीतापुर में कलयुगी पिता ने दोस्तों के साथ मिलकर किया बेटी का गैंगरेप

उत्तर प्रदेश। एक पिता ने अपनी ही बेटी के साथ ऐसा पाप किया जिसे सुनकर हर कोई दंग है। किसी को अपने कानों पर विश्वास नहीं हो रहा है कि क्या कोई पिता इतना पापी हो सकता है? लेकिन यह सच है। रिश्ते को कलंकित करने वाली यह खबर उत्तर प्रदेश से है। उत्तर प्रदेश के सीतापुर में एक पिता ने अपने दोस्तों को गैंगरेप के लिए बेटी ‘गिफ्ट’ कर दी। दोस्तों ने बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार किया और बाद में पिता ने भी कथित रूप से अपनी बेटी के साथ दुष्कर्म किया। इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी पिता की उम्र 50 साल है। वह 15 अप्रैल को कमालपुर के मेले में गया था। शाम को वहां से आने के बाद उसने अपने दोस्त हिस्ट्रीशीटर मान सिंह को बुलाया। घर पर आरोपी ने अपनी बेटी (35) को मान सिंह के साथ बाइक से जाने को कहा। मान सिंह उसे लेकर एक दूसरे दोस्त मेराज के घर पहुंचा।

आरोपी पिता अब भी फरार
पीड़िता का आरोप है कि मेराज के घर में उन तीनों ने मिलकर उसका गैंगरेप किया। मेराज के घर पर उसे 18 घंटे तक बंधक बनाकर रखा गया। वहां से उसे सोमवार की शाम को छोड़ा गया। घर आकर उसने मां को पूरी बात बताई, जिसके बाद उन लोगों ने थाने में जाकर एफआईआर दर्ज कराई।

पुलिस ने बताया कि एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस ने मेराज को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, पीड़िता के पिता और मान सिंह को अभी नहीं पकड़ा जा सका है। कमालपुर एसएचओ संजीत सोनकर ने बताया कि मेराज कमालपुर में एक क्लिनिक चलाता है। उसने दावा किया कि वह एक डॉक्टर है लेकिन वह उसकी डिग्री नहीं दिखा सका। घटना के दिन मेराज के परिजन घर से बाहर थे।

पहले भी पिता पर लगा है बेटी से रेप का आरोप
सीतापुर एसपी सुरेशराव ए. कुलकर्णी ने बताया कि पीड़िता की शादी 16 साल पहले हुई थी, लेकिन शादी के दो साल बाद ही पति से विवाद के बाद वह घर वापस आ गई थी। नवंबर 2017 में भी उसके पिता पर पीड़िता ने रेप का आरोप लगाया था, जिसके बाद उसे गांव से निकाल दिया गया था। एसपी ने बताया कि 2017 में गांव के लोगों ने पंचायत बुलाई थी और पीड़िता के पिता को गिरफ्तार करवाया था। उसे इसी साल फरवरी में जमानत मिली थी। पीड़िता अपने 14 वर्षीय बेटे के साथ अलग रहती है।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।