ताज़ा खबर :
prev next

जानिये हिंडन विहार प्राथमिक स्कूल का हाल

गाज़ियाबाद। ”हमारा गाज़ियाबाद” की टीम आजकल जिले के प्राथमिक स्कूलों  में  जाकर वहां की कठिनाइयों और सुविधाओं  का जायजा ले रही है। इसी क्रम में आज हम आपको हिंडन विहार स्थित प्राथमिक स्कूल के बारे में बताएँगे। इस स्कूल की इंचार्ज कविता सगटा व् शिक्षा मित्र नीतू शर्मा हैं । स्कूल का सारा उत्तरदायित्व इन्ही दोनों पर है।

                             

स्कूल की वर्तमान स्थिति :-

127 विद्यार्थियों के इस स्कूल में 59 छात्र व 68 छात्राएं हैं। इस स्कूल में पांचवी कक्षा तक पढ़ाई होती है। स्कूल में 7 कमरे हैं जिनमे से 4 कमरे में बच्चो को पढ़ाया जाता है और बाकि 2 कमरे बंद रहते हैं। स्कूल में छात्र व छात्राओं के लिए 4 शौचालय हैं । मिड डे मिल के लिए बनी किचन देख रेख के अभाव में खंडहर बन चुकी है, जिसके कारण खाना बाहर से बनकर आता है। स्कूल में मिड डे मिल के लिये सरकार से 4.13 रूपये प्रति बच्चे के हिसाब से मिलता है। यह फंड  दो से  तीन महीने का अडवांस एक साथ आ जाता है। इस स्कूल में बच्चों के लिये डेस्क व एक क्लास रूम का निर्माण अमित्र फाउंडेशन आरडीसी द्वारा करवाया गया है। स्कूल में बिजली व पंखों के साथ बच्चों के पीने के लिये हैंडपंप व समरसेबुल है। साथ ही एक एनजीओ द्वारा परिसर में बच्चों के खेलने के लिए झूले लगवाए गए हैं।

                           

क्या है स्कूल की प्रिंसिपल का कहना :–

इस स्कूल में शासन की कम सहायता की वजह से एनजीओ व सामाजिक संस्थाएं यहाँ विद्यार्थियों की जरूरतों को पूरी करते हैं, लेकिन शिक्षकों की कमी कोई पूरी नहीं कर पाता। नया सत्र शुरु होने पर बच्चों को पढ़ाने में बहुत दिक्कत होती है। कभी-कभी इन्हें दो या तीन कक्षा के बच्चों को एक साथ बैठाकर पढ़ाना पड़ता है। शिक्षकों की कमी के बावजूद  इनकी ड्यूटी कभी मतगणना में, कभी किसी सर्वे में, पल्स पोलियो अभियान में या बीएलओ के साथ लगा दी जाती है। इस कारण यहाँ पढ़ रहे बच्चों की शिक्षा पर बहुत बुरा असर पड़ता है। यहाँ कम से कम 3 और शिक्षकों की तुरंत आवश्यकता है और इस के लिए कई बार शासन प्रशासन को लिखा गया है लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है।

            

प्रशासन का पक्ष :

गाजियाबाद के बेसिक शिक्षा अधिकारी विनय कुमार का कहना है कि वर्ष 2010 से अभी तक शासन ने ग्रामीण स्तर पर शिक्षकों की नई नियुक्तियाँ नहीं की हैं। इसी कारण स्कूलों में शिक्षक कम हैं। इस संबंध में शिक्षा निदेशक लखनऊ को लिखित पत्र में शिक्षकों व कर्मचारियों की मांग की गयी है।

 

आप कैसे कर सकते हैं मदद :-

इस स्कूल में टीचरों की आवश्यकता है यदि आप इस स्कूल के बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलवाने में उनकी मदद करना चाहें तो अपने खर्च पर 3 टीचर्स को  यहाँ नियुक्त कर देवें  इस स्कूल की मदद के लिए आप हमें इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं (हमारा गाज़ियाबाद न्यूज़, 9650358408) 

 

 

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel