ताज़ा खबर :
prev next

जिस मां ने पाल पोसकर बड़ा किया उसके साथ कलयुगी बेटे ने किया ये सलूक

गाज़ियाबाद। हर माता-पिता की इच्छा होती है कि बुजुर्ग होने पर उनके बेटा और बेटी सहारा बनें, लेकिन आज के समाज में कुछ बच्चे बुजुर्गाें को बोझ समझने लगे हैं। इंदिरापुरम में एक ऐसा मामला सामने आया है। इसमें हरियाणा के रोहतक की रहने वाली महिला के पति का स्वर्गवास होने के बाद बुजुर्ग महिला को उनके बेटे ने घर से बाहर निकाल दिया।

गाजियाबाद के इंदिरापुरम के किसान चौक के पास में रोहतक निवासी बुजुर्ग सरोज बेहोशी की हालत में मिली थी। ट्रेनी आईपीएस अपर्णा गौतम ने महिला को देखकर प्राथमिक उपचार दिलाया। इसके बाद में उन्होंने प्रेरणा सेवा संस्थान को इसके बारे में सूचित किया। प्रेरणा सेवा संस्थान के अधिकारियों ने सूचना मिलने के बाद में बुजुर्ग को अपनी सुपुदर्गी में ले लिया और अब वे ही परिवार की तरह उनकी देखभाल कर रहे हैं।

बुजुर्ग महिला सरोज के दो बेटे संदीप और प्रदीप रोहतक में रहते हैं। दोनों ही शादीशुदा हैं। बुजुर्ग बड़े बेटे प्रदीप के पास में रह रही थी। पीड़िता के मुताबिक, उनके लखपति बेटों के पास मकान, दुकान और गाड़ी सब कुछ है लेकिन फिर भी उनका बेेटा प्रदीप आए दिन उनके साथ में मारपीट करता था। एक दिन गुस्से में आकर उन्हें घर से बाहर कर दिया। इसके बाद अब वह उधर-उधर भटकती रही, उन्होंने रोते हुए कहा कि जब वे छोटे बच्चे थे तब उन्होंने बड़े ही प्यार से पाला लेकिन आज उन्हीं ने घर से बेघर कर दिया। इसके बाद वह किसी तरह इंदिरापुरम तक पहुंचीं और यहां सड़क पर रह रही थीं।

प्रेरणा सेवा संस्थान के संचालक आचार्य तरुण मानव के मुताबिक, महिला अपने घर का पूरा पता नहीं बता पा रही थी, इसलिए उन्होंने रोहतक की अपनी सहयोगी संस्था जन सेवा संस्थान की मदद से परिवार को तलाश लिया। इसमें वहां के स्थानीय सांसद ने भी सहयोग किया। जब वे उनके घर पर पहुंचे और उनके बेटे को मां का हाल सुनाया तो उसने उन्हें रखने से मना कर दिया। इसके बाद उन्होंने भी उसके घर पर फोन पर बात की तो इस बार बेटे और बहु ने उन्हें पहचाने से ही इंकार कर दिया। फिर ट्रेनी आईपीएस अपर्णा गौतम की नजर उन पर पड़ी, जिसके बाद उनको फोन किया गया। अब उनका संस्था में पूरा ख्याल रखा जा रहा है।

(इस महान एवं सराहनीय कार्य के लिए “प्रेरणा सेवा संस्थान” को हमारा गाज़ियाबाद की टीम का सलाम।)

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel