ताज़ा खबर :
prev next

जीडी गोयनका स्कूल मामले में चेयरमैन समेत पांचों आरोपी समर्पण के बाद अदालत से रिहा

गाज़ियाबाद | ट्रांस हिंडन क्षेत्र के इंदिरापुरम के जीडी गोयनका स्कूल में छात्र अरमान की मौत के मामले में मंगलवार को पांचों आरोपियों ने अदालत में समर्पण कर दिया। समर्पण करने वालों में स्कूल चेयरमैन, निदेशक, प्रिन्सिपल समेत पांचों आरोपी शामिल थे। कल मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में समर्पण के बाद आरोपियों के जमानत प्रार्थना पत्र पर बहस हुई और उसके बाद सभी आरोपियों अदालत ने जमानत दे दी।

अदालत के अभियोजन अधिकारी अजय कुमार मिश्रा ने बताया कि आरोप पत्र में स्कूल चेयरमैन अंकुर मल्होत्रा, निदेशक स्मिता मल्होत्रा, निदेशक फाइनेंस जोगेंद्र दुआ, प्रिंसिपल कविता शर्मा और दीपक टुटेजा पांच आरोपी हैं। सभी के खिलाफ अदालत ने बीते दिनों वारंट जारी किया था। मंगलवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट अर्चना की अदालत में सभी आरोपियों ने आत्मसमर्पण कर दिया। अधिवक्ताओं ने जमानत के लिए प्रार्थना पत्र दिया। इस पर अदालत ने सभी को जमानत देने के आदेश दिए। मिश्रा ने बताया कि आरोपियों पर लापरवाही से मौत और साक्ष्यों को नष्ट करने का आरोप है।

आपको बता दें कि 1 अगस्त 2017 को जीडी गोयनका स्कूल में चौथी के छात्र अरमान सहगल (9) की कॉरिडोर में संदिग्ध परिस्थितियों में गिरने से मौत हो गई थी। परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर हत्या का आरोप लगाकर इंदिरापुरम थाने में मुकदमा किया था। रिपोर्ट में प्रधानाचार्या कविता शर्मा, निदेशक समेत पांच के नाम थे। केस के विवेचक इंदिरापुरम क्षेत्राधिकारी ने 15 फरवरी को आरोप पत्र अदालत में पेश किया था। अभियोजन अधिकारी ने बताया कि इसमें स्कूल प्रबंधन की लापरवाही के साथ सभी को धारा 304(ए) एवं 201 में आरोपी बनाया गया था। आरोप पत्र में स्कूल प्रबंधन पर लापरवाही बरतने, सीबीएसई के मानकों के अनुरूप स्कूल में चिकित्सा सुविधा नहीं होने, प्राथमिक उपचार का अभाव, चिकने टाइल वाले तल पर पानी फैला होने समेत कई और गंभीर आरोप लगाया गया है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel