ताज़ा खबर :
prev next

दिल्ली-मेरठ हाईवे से होगी मधुबन बापूधाम योजना की कनेक्टिविटी

गाज़ियाबाद। मधुबन बापूधाम योजना की सीधे दिल्ली-मेरठ हाईवे से कनेक्टिविटी के लिए रेलवे ओवरब्रिज की योजना पर काम तेज हो गया है। योजना के पास बनने वाले आरओबी की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट जून तक तैयार होगी। जीडीए अधिकारियों के मुताबिक आरओबी के लिए सर्वे का काम इस माह पूरा होने की संभावना है।
1234 एकड़ में फैली मधुबन बापूधाम आवासीय योजना की दिल्ली-मेरठ हाईवे से सीधी कनेक्टिविटी नहीं होने का नुकसान योजना को हुआ है। सबसे ज्यादा खामियाजा बहुमंजिला आवासीय योजना को उठाना पड़ा है। ऐसे में दिल्ली-मेरठ हाईवे से कनेक्टिविटी देने के लिए चार लेन आरओबी का प्रस्ताव जीडीए की जनवरी माह में हुई बोर्ड बैठक में पास हो चुका है। इस आरओबी के निर्माण पर 20 करोड़ रुपये खर्च होंगे। जीडीए ने आरओबी के निर्माण के लिए सलाहकार एजेंसी नियुक्त की थी।
एजेंसी की ओर से सर्वे का काम शुरू कर दिया गया है। सर्वे में आरओबी से भविष्य में कितने लोगों को होने वाले लाभ और जाम की समस्या से छुटकारा मिलने के विभिन्न पहलुओं को शामिल किया जाएगा। एजेंसी जीडीए अधिकारियों के साथ मिलकर साइट पर नाप-तौल का काम भी कर रही है। सर्वे रिपोर्ट जीडीए को सौंपी जाएगी। जीडीए अधिकारी रिपोर्ट का अध्ययन कर सलाहकार फर्म को डीपीआर तैयारी करने के निर्देश देंगे। नॉर्दर्न पेरिफेरल-वे की शुरुआत एनएच-24 स्थित डासना से होनी है। यह पेरिफेरल मधुबन-बापूधाम के करीब से गुजरेगा, जो एनएच-58 को जोड़ेगा। आरओबी से मधुबन बापूधाम योजना से सीधे दिल्ली-मेरठ हाईवे पर मननधाम के पास सीधे पहुंचा जा सकेगा।