ताज़ा खबर :
prev next

बिना मान्यता के चल रहे 40 स्कूलों पर एक-एक लाख रूपये का जुर्माना

गाज़ियाबाद। बिना मान्यता के चल रहे जिले के 40 स्कूलों पर एक-एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी के निर्देशों बाद बेसिक शिक्षा विभाग ने यह कार्रवाई की गई है। जुर्माने का नोटिस भेजने के साथ स्कूलों पर जिला प्रशासन द्वारा नोटिस को छपवाया भी गया है। इसके मुताबिक पूर्व में विद्यालयों को बंद करने या मान्यता प्राप्त करने का नोटिस भेजा गया था। मगर इन स्कूलों ने विभाग के नोटिस को अनदेखा कर दिया। ऐसे में यह कार्रवाई की गई है। बेसिक शिक्षा अधिकारी विनय कुमार ने बताया कि इस महीने कुल 88 स्कूलों पर इसी तरह की कार्रवाई की गई है। उनके मुताबिक यदि उक्त स्कूल मान्यता के लिए आवेदन करते हैं तो जुर्माना जमा करने के बाद ही इन स्कूलों को मान्यता दी जाएगी।

शैक्षिक सत्र 2017-18 में स्कूलों का सर्वे किया गया था। इसमें बिना मान्यता के संचालित हो रहे 231 स्कूल चिह्नित किए गए थे। इन सभी स्कूलों को विभाग द्वारा नोटिस भेजा गया था। मगर हैरानी की बात यह है कि बीते साल विभाग 231 स्कूलों में से सिर्फ 44 स्कूलों को ही बंद करा पाया। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि इस दौरान 22 स्कूलों ने अपनी मान्यता प्राप्त कर ली है। बता दें कि बीएसए और सभी खंड शिक्षा अधिकारियों के साथ जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने 11 मई को बैठक की थी। इसमें उन्होंने किसी भी कीमत पर बिना मान्यता के कोई भी स्कूल संचालित ना होने का निर्देश दिया था। इसके बाद एक बार फिर बेसिक शिक्षा विभाग हरकत में आया।

बीएसए ने बताया कि 17 और 18 मई को जिले के 40 स्कूलों को नोटिस भेजा गया है। साथ ही इन स्कूलों पर जिला प्रशासन द्वारा बड़े बड़े अक्षरों में चेतावनी दी छपवाई गई है। स्कूल में तीन स्थानों पर चेतावनी को जिलाधिकारी के निर्देश पर छापा गया है ताकि अभिभावकों को भी इसकी जानकारी मिल जाए। इसके मुताबिक बिना मान्यता के स्कूल संचालित करने और नोटिस के बाद भी स्कूल बंद न करने के चलते स्कूल पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। यदि इसके बाद भी विद्यालय संचालित होता पाया जाता है तो 10 हजार रुपये प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना वसूला जाएगा। इस नोटिस में जिलाधिकारी ने अभिभावकों से भी अपील की है कि ऐसे स्कूलों में अपने बच्चों को पढ़ाएं।

बीते साल में चिह्नित हुए सभी 231 स्कूलों पर कार्रवाई पूरी हो चुकी है। बीएसए ने बताया कि 44 स्कूल पहले बंद हुए थे, जबकि 88 के खिलाफ इसी माह जुर्माना लगाया गया है। 22 स्कूल ऐसे हैं, जिनके प्रबंधकों ने नोटिस के बाद मान्यता प्राप्त कर ली है। इसके अलावा 77 स्कूल ऐसे हैं, जिन्हें संचालकों ने कार्रवाई के डर से खुद ही बंद कर लिया है। बीएसए ने बताया कि दो दिन में जिन स्कूलों पर जुर्माना लगाया गया है, उनमें सर्वाधिक लोनी के 17 स्कूल, मुरादनगर के 11, भोजपुर के चार और गाजियाबाद के नौ स्कूल शामिल हैं।

 

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel