ताज़ा खबर :
prev next

दीवार में सिर मारकर दोस्तों ने ही की थी कुलदीप की हत्या, गिरफ्तार

गाज़ियाबाद। लोनी बार्डर थाना क्षेत्र पुलिस ने शनिवार को बेहटा हाजीपुर गांव स्थित रेलवे फाटक से दो युवकों को गिरफ्तार कर हत्याकांड का पर्दाफाश करने का दावा किया है। पुलिस के अनुसार, कुलदीप ने मुख्य आरोपित की पत्नी पर अवैध संबंधों का आरोप लगाया था। पत्नी के बारे में गलत सुनकर गुस्साए पति ने अपने दोस्त के साथ दीवार में सिर मारकर कुलदीप की हत्या कर दी। पुलिस ने गिरफ्तार दोनों युवकों को जेल भेज दिया है।

 

लोनी कोतवाली में सीओ दुर्गेश कुमार सिंह ने बताया कि कुलदीप निवासी नंद नगरी दिल्ली, अतुल निवासी गगन विहार साहिबाबाद लोनी की सेवाधाम कॉलोनी स्थित एक गैस स्टोव बनाने की फैक्ट्री में काम करते थे। राजीव सिंह उस फैक्ट्री में बतौर ठेकेदार तैनात था। तीनों में अच्छी दोस्ती होने से घर आना-जाना होता था। हत्या से कुछ दिन पूर्व कुलदीप ने राजू से कहा था कि उसकी पत्नी के अतुल के साथ अवैध संबंध हैं।

इन आरोपों के बाद अतुल और राजू गुस्से में आ गए थे। छह दिसंबर 2016 को राजू की पत्नी अपने मायके गई हुई थी। राजू ने अतुल और कुलदीप को अपने घर बुलाया, जहां शराब पीने के दौरान राजू ने कुलदीप से अवैध संबंधों के बारे में पूछताछ शुरू कर दी। अतुल के सामने होने पर कुलदीप ने अवैध संबंधों की बात को मजाक बताते हुए बात को टालना चाहा तो राजू और अतुल ने मिलकर उसे पीटा और उसका सिर कई बार दीवार में मार दिया। कुलदीप के बेहोश होने पर दोनों ने उसे उठाकर बेड पर डाल दिया।

सिर में चोट लगने से देर रात उसकी मौत हो गई। सुबह राजू ने कुलदीप के घर जाकर उसके बीमार होने की सूचना दी। इस पर कुलदीप का भाई राजू के घर पहुंचा और उसे इलाज के लिए डाक्टरों के पास ले गया। डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के परिजनों ने कोर्ट के आदेश पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। एक सप्ताह पूर्व केस को लोनी बार्डर थाने पर ट्रांसफर किया गया था। मुखबिर की सूचना पर शनिवार सुबह दोनों हत्यारों को बेहटा हाजीपुर गांव स्थित रेलवे फाटक से गिरफ्तार कर लिया गया है।