ताज़ा खबर :
prev next

एसीपी राकेश साहनी की मौत अब सीबीआई जांच के घेरे में, मुख्यमंत्री ने हाई लेवल मीटिंग के बाद दिए आदेश

लखनऊ | मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार रात को प्रदेश के गृह सचिव समेत कई प्रमुख अधिकारियों के साथ मीटिंग करने के बाद एएसपी राकेश साहनी की आत्महत्या के कारण जाने का जिम्मा सीबीआई को सौंप दिया हाई। यह जानकारी प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी ने दी।
इस हाई लेवल मीटिंग में मुख्यमंत्री ने अफसरों से पूछा कि किन परिस्थितियों में राजेश साहनी ने अपने दफ्तर में खुद को गोली मार कर जान दी। इस प्रकरण में योगी आदित्यनाथ अधिकारियों के जवाब से संतुष्ट नहीं हुए और उन्होंने अफसरों से कहा कि बेहद शांत अफसर का इस तरह खुदकुशी करना गम्भीर मामला है। बताया जाता है कि खुफिया एजेन्सियों, पीपीएस एसोसिएशन और एटीएस के कुछ कर्मचारियों से भी गुपचुप तरीके से इस प्रकरण के बारे में जानकारी ली गई। इसके बाद ही यह निर्णय लिया गया।

शासन इस सम्बन्ध में गुरुवार को सीबीआई जांच के लिए औपचारिक चिठ्ठी केन्द्र को भेजेगा। सीबीआई जांच का आदेश होने से पहले डीजीपी ओपी सिंह ने पूरे प्रकरण की जांच एडीजी जोन राजीव कृष्ण से कराने के आदेश दिये थे। यह जांच गुरुवार सुबह से शुरू होनी थी। पर रात में सीबीआई जांच के आदेश हो गए।

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने शाम को भी डीजीपी ओपी सिंह से इस पूरे मामले की जानकारी ली थी। उन्होंने डीजीपी से पूछा था कि अब तक इस प्रकरण में क्या निकला? खुदकुशी की कोई वजह सामने आयी? डीजीपी ने मुख्यमंत्री को बताया कि मंगलवार को राजेश साहनी छुट्टी पर थे। पर, दोपहर में वह आफिस पहुंचे थे। फिर कुछ देर बाद ही उन्होंने गनर मनोज से सर्विस पिस्टल मंगवाई। इसके चंद मिनट बाद ही उन्होंने खुद को गोली मार ली।

बता दें कि राजेश साहनी पुलिस सेवा में आने से पहले पत्रकार थे। दिल्ली और मुम्बई में उनके कई पत्रकार मित्र अब भी उनसे जुड़े हुए थे। राजेश के कई मित्रों ने इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है। कुछ दोस्तों ने तो यहां तक कहा कि राजेश साहनी के व्यक्तित्व को देखते हुए यह मानना काफी मुश्किल हो रहा है कि उसने खुदकुशी की है। लिहाजा इस प्रकरण की सीबीआई जांच कराई जानी चाहिए। इस प्रकरण का सच सामने जरूर आना चाहिए। दोस्तों ने अपने इस मैसेज को दिनभर सोशल मीडिया पर खूब चलाया। सीबीआई जांच के आदेश की खबर मिलते ही इन दोस्तों ने भी कहा कि अब सच सामने आ जायेगा।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel