ताज़ा खबर :
prev next

एक करोड़ की फिरौती न मिलने पर चचेरे भाई की हत्या कर गंगनहर में फेका

गाज़ियाबाद। एक करोड़ की फिरौती न मिलने पर दिल्ली से अगवा युवक की हत्याकर गंगनहर में फेकने का मामला सामने आया है। दिल्ली पुलिस गोताखोरों के साथ गंगनहर में युवक की तलाश कर रही है।

दिल्ली के नंदनगरी निवासी संतराम टूर एंड ट्रेवल्स का व्यवसाय करते हैं। संतराम के पुत्र साहिल (17) ने इसी साल हाई स्कूल की परीक्षा पास की है। गत 29 मई को मोहल्ले में ही रहने वाले चचेरे भाई पंकज उर्फ डब्बू के साथ साहिल घर से घूमने के लिए निकला था। देर रात तक साहिल के न लौटने पर संतराम ने भतीजे पंकज से साहिल के बारे में पूछा तो उसने बताया कि साहिल तो शाम को ही घर जाने की बात कहकर उससे अलग हो गया था।

संतराम और परिवार के अन्य लोग इधर उधर साहिल को तलाश कर रहे थे तभी देर रात उनके मोबाइल पर फोन आया। फोन करने वाले ने उन्हें धमकी देते हुए बताया कि उन्होंने साहिल का अपहरण कर लिया है। अगर उसे जिंदा देखना चाहते हो तो एक करोड़ की फिरौती का इंतजाम कर लो, फिरौती कब और कहां देनी है, ये बाद मे बताया जाएगा। फोन करने वाले ने संतराम को चेतावनी दी कि यदि उन्होंने पुलिस को सूचना दी तो वे साहिल की हत्या कर देंगे।

संतराम ने परिजनों से सलाह कर साहिल की गुमशुदगी और फिरौती के लिए आए फोन की जानकारी पुलिस को दे दी। नंदनगरी पुलिस ने बताए गए नंबर की कॉल डिटेल खंगाली तो उस नंबर से साहिल के चचेरे भाई पंकज के साथ भी बातचीत होने की बात सामने आई। पुलिस ने बुधवार की रात पंकज को हिरासत में लेकर जब उससे सख्ती से पूछताछ की तो उसने पूरी कहानी बयां कर दी।

पंकज ने पुलिस को बताया कि उसी ने योजनाबद्ध तरीके से 29 मई को अपने दोस्तों के साथ मिलकर साहिल को अगवा किया था। उसे यकीन था कि साहिल के परिजन साहिल के मारे जाने के डर से चुपचाप लाखों की फिरौती दे देंगे, लेकिन साहिल के पिता ने पुलिस को सूचना दे दी, जिसके बाद उसने अपने दोस्तों को साहिल को मारने का आदेश दिया। पंकज के मुताबिक उसके दोस्तों ने साहिल की हत्या कर निवाड़ी थाने के सौंदा गंगनहर पुल के पास नहर में शव को फेंक दिया था। दिल्ली पुलिस गुरुवार को गोताखोरों की टीम के साथ सौंदा पुल पहुंची और रेगुलेटर के पास गंगनहर में साहिल के शव की तलाश की। समाचार लिखे जाने तक गोताखोर शव की तलाश कर रहे थे।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel