ताज़ा खबर :
prev next

दोस्त की हत्या कर सूटकेस में कटी लाश लेकर ठिकाने लगाने पहुंचे वृंदावन, 2 दोस्त गिरफ्तार

गाज़ियाबाद। दोस्ती एक ऐसा रिश्ता होता जिसपर आंख बंदकर के भी भरोसा किया जा सकता है। लेकिन कई बार ये अंधा विश्वास ही आपके लिए खतरा भी साबित हो सकता है। ऐसा ही कुछ मामला सामने आया है नोएडा में दोस्त की हत्या कर दी और फिर शव को ठिकाने लगाने के लिए वृंदावन पहुंच गए। लेकिन पुलिस ने घटना की भनक मिलते ही दो दोस्तों को दबोच लिया। दोनों को रमणरेती क्षेत्र स्थित इस्कॉन मंदिर के पास सूटकेस में कटी लाश लेकर ई-रिक्शा में घूमते हुए पुलिस ने गिरफ्तार किया।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी युवक की लाश को ठिकाने लगाने की फिराक में घूम रहे थे। सूटकेस पर खून के दाग लगे होने पर शक के चलते इन्हें पकड़ लिया गया। मृतक, आरोपित में से एक का चचेरा भाई था। घटना से इलाके में सनसनी फैल हुई है।  सूत्रों के मुताबिक, विशाल त्यागी और उसका रुममेट पौरुष सूटकेस को ई-रिक्शा में लेकर नगर के रमणरेती क्षेत्र में घूम रहे थे। वो जैसे ही इस्कॉन मंदिर के पास एक गेस्टहाउस पहुंचे तभी स्थानीय लोगों ने सूटकेस से खून टपकता देखा और तुरंत पुलिस को सूचित किया।

पुलिस की पूछताछ में दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल लिया। आरोपियों ने बताया कि वो ग्रेटर नोएडा के गौर सिटी स्थित एक फ्लैट में रह कर साथ पढ़ाई करते थे। रविवार रात को शराब पीकर दीपांशु फ्लैट पर आया और तोड़फोड़ करने लगा। इतना ही नहीं वो चाकू लेकर विशाल के पीछे भागा। तभी बचाव में पहले पौरुष ने उसे पकड़ा व उसके बाद विशाल ने पकड़ कर उसे रोकने की कोशिश की। इस दौरान उसकी हत्या हो गई। वहीं विशाल त्यागी ने बताया कि दीपांशु की लाश ठिकाने लगाने को ग्रेटर नोएडा से वृंदावन जाने के लिए कैब बुक की। इससे पहले दीपांशु के लाश के दो टुकड़े करके सूटकेस में रखा।

जानाकारी के मुताबिक, आरोपी युवकों ने अपना नाम विकास और पौरुष निवासी गाज़ियाबाद बताया है। मृतक का नाम दिव्यांशु गाजियाबाद के सिहानी गेट निवासी बताया जा रहा है। फिलहाल पुलिस ने मृतक दिव्यांशु के परिजनों को सूचित कर दिया है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel