ताज़ा खबर :
prev next

₹39 हज़ार करोड़ के कर्ज में डूबा है वीडियोकॉन ग्रुप, चेयरमैन ने बताया मोदी की नीतियों का भी है हाथ

नई दिल्ली | 39 हज़ार करोड़ रुपयों के कर्ज में डूबे वीडियोकॉन ग्रुप ने अपनी बदहाली के लिए सुप्रीम कोर्ट, ब्राज़ील की सरकार के अलावा नरेंद्र मोदी की नीतियों को भी जिम्मेदार माना है। टीवी चैनल ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक कंज्यूमर अप्लायंसेस मेकर कंपनी वीडियोकॉन ने अपने भारी-भरकम लोन के लिए इन्हें जिम्मेदार ठहराया है। वीडियोकॉन ने अपने ऊपर हुए कर्ज के लिए पीएम मोदी की तरफ से नोटबंदी की घोषणा किए जाने को अहम वजह बताया।

वीडियोकॉन की तरफ से कहा गया है कि नवंबर 2016 में पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले से कैथोड रे ट्यूब (CRT) टेलीविजन्स बनाने के लिए जो सप्लाई होती थी, वह पूरी तरह से ठप पड़ गई। यही वजह है कि कंपनी को काफी नुकसान झेलना पड़ा और कंपनी को अपना कारोबार बंद करना पड़ा।
तेल और गैस के कारोबार के लिए ब्राज़ील की सरकार को दोषी ठहराते हुए ग्रुप ने कहा है कि ”ब्राजील में इस कंपनी का तेल और गैस का कारोबार लालफीताशाही की वजह से डूबने की कगार पर है।” सुप्रीम कोर्ट को लेकर ग्रुप ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के लाइसेंस रद्द करने पर टेलीकम्युन‍िकेशंस का कारोबार ठप पड़ा गया। इसका भी नकारात्मक असर ग्रुप की बैलेंसशीट पर देखने को मिला।

आपको बता दें कि वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज के ख‍िलाफ इस समय दिवालिया कानून के तहत सुनवाई शुरू हो चुकी है। नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) ने पिछले हफ्ते ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के नेतृत्व में इस कंपनी के खिलाफ सुनवाई की याचिका स्वीकार की थी। वीडियोकॉन कंपनी को लोन देने वाले बैंकों ने SBI के नेतृत्व में अपील की है कि अगले 180 दिनों में नीलामी के जरिये इस कंपनी के नए मालिक का चयन किया जाए। इसके बाद कंपनी के मालिकों की ओर से कंपनी पर अपने नियंत्रण को बचाने के लिए अपील की गई है।

वीड‍ियोकॉन इंडस्ट्रीज वेणुगोपाल धूत की फ्लैगश‍िप कंपनी है। इस कंपनी पर बैंकों का हजारों करोड़ रुपये का कर्ज बकाया है। सिर्फ वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज के ख‍िलाफ एनसीएलटी ने याच‍िका स्वीकार कर ली थी। इसके अलावा वीडियोकॉन टेलीकॉम के ख‍िलाफ दायर याचिका पर भी सुनवाई हो रही है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel