ताज़ा खबर :
prev next

नहीं थम रहा है कश्मीर में आतंकी हिंसा का तांडव, बम हमले में हुई 20 वर्षीय युवक की मौत

श्रीनगर | कश्मीर में आज सुबह हुई ईद-उल-फ़ितर की नमाज़ के बाद से शुरू हुई हिंसा अब थमने का नाम ही नहीं ले रही है। दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में पुलिस और आतंकी पत्थरबाज़ों के बीच हुई झड़प में एक 20 वर्षीय युवक की मौत हो गई। जबकि जंगलात मंडी में भड़की इस हिंसा में करीब 10 लोग घायल हुए हैं। डॉक्टरों ने बताया कि ब्राकपोरा के रहने वाले शीराज़ अहमद गंभीर रूप से घायल होने के कारण मौत हो गई। पुलिस को हिंसक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस और पैलेट गन्स का इस्तेमाल करना पड़ा।

पुलिस ने बताया कि अहमद हैंड ग्रेनेड विस्फोट के चलते मारा गया है। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार शुरुआती जांच में यह पता चला है कि एक हैंड ग्रेनेड विस्फोट हुआ जिसकी वजह से ब्राकपोरा के रहनेवाली शीराज गंभीर रूप से घायल हो गए और उसका दायां हाथ पूरी तरह से बर्बाद हो गया था। ईद-उल-फितर के मौके पर हिंसा की कई ख़बरें सामने आयी है जो रमजान के पवित्र महीने का आखिरी दिन है। इससे पहले, पाकिस्तानी सेना की तरफ से संघर्ष विराम का उल्लंघन कर नियंत्रण रेखा के पास राजौरी जिले में गश्त कर रहे जवानों पर हमले के बाद 21 वर्षीय सेना का बिकास गुरुंग शहीद हो गए । इधर, श्रीनगर के पास लासजान में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर हमला किया जिसमें सीआरपीएफ का एक जवान दिनेश पासवान घायल हो गया। वे सीआरपीएफ की 29वीं बटालियन में तैनात है।

उधर श्रीनगर के सफाकदाल इलाके में भी एक अन्य व्यक्ति झड़प में घायल हो गया। एक अधिकारी ने बताया कि उत्तर कश्मीर के सोपोर और कुपवाड़ा से भी प्रदर्शनकारियों और कानून प्रवर्तन एजेंसियों के बीच झड़पों की खबरें हैं। उन्होंने कहा कि घाटी के अन्य हिस्सों में स्थिति शांतिपूर्ण है।
इस बीच, रमजान के पाक माह में रोजे रखने के बाद आज सभी वर्ग के मुस्लिम नमाज अता करने ईदगाह और मस्जिद पहुंचे। अधिकारियों ने बताया कि सबसे ज्यादा लोग हजरतबल दरगाह में जुटे और वहां हजारों लोगों ने ईद की नमाज अता की। इसके बाद पुराने शहर के ईदगाह में सबसे अधिक लोग नमाज के लिए एकत्रित हुए। शहर के बीचों-बीच स्थित सोनावर तथा सौरा मस्जिदों में भी बड़ी संख्या में लोगों ने ईद की नमाज अता की। घाटी के मुख्य शहरों और जिला मुख्यालय में भी ईद का जश्न मनाया गया।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel