ताज़ा खबर :
prev next

आधा दर्जन भारतीय पासपोर्ट रखने के आरोप में नीरव मोदी पर नई FIR दर्ज

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक के साथ करीब 13 हजार करोड़ रुपये का कर्ज घोटाला करने के आरोप में फरार चल रहे हीरा कारोबारी नीरव मोदी के लिए मुसीबत और बढ़ गई है। जांच एजेंसियों के सामने मोदी के कम से कम आधा दर्जन भारतीय पासपोर्ट अपने नाम से बनवाने की बात आई है।
एक अधिकारी के अनुसार, उसके खिलाफ एक से ज्यादा पासपोर्ट फर्जी तरीके से बनवाने के आरोप में नई एफआईआर दर्ज कर ली गई है। भारतीय खुफिया एजेंसियों ने मोदी के बेल्जियम में होने का पता लगाया था और पासपोर्ट रद्द होने के बावजूद उसकी लगातार यात्राओं की जांच करने पर उसके पास मौजूद 6 पासपोर्ट की जानकारी सामने आई है। मोदी के दो सक्रिय पासपोर्ट में से पहले में उसका पूरा नाम है, जिसे भारतीय सरकार ने इस साल के शुरू में रद्द करा दिया था। दूसरा पासपोर्ट मात्र नीरव नाम से जारी कराया गया था, जिस पर उसे 40 महीने का अमेरिकी वीजा भी मिला हुआ है। माना जा रहा है कि इसी के जरिए नीरव अन्य देशों में यात्रा कर रहा है।

विदेश मंत्रालय ने इंटरपोल को उसके दोनों रद्द पासपोर्ट की जानकारी दे रखी है, लेकिन विभिन्न देशों में उसके कागजातों पर कानूनी रोक की प्रक्रिया अब तक पूरी नहीं हो सकी है। माना जा रहा है कि भगोड़ा हीरा विशेषज्ञ यात्रा करने के लिए इन्हीं देशों के एयरपोर्ट के साथ मुमकिन है कि बंदरगाहों का भी इस्तेमाल कर रहा है। जांच एजेंसियां मोदी के अन्य देशों से जारी पासपोर्ट के जरिए यात्रा करने का पहलू भी जांच रही हैं। बता दें कि जांच के दौरान नीरव मोदी के पास बेल्जियम की नागरिकता होने का भी खुलासा हुआ था।

सूत्रों के अनुसार, सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) इंटरपोल से नीरव के खिलाफ गिरफ़्तारी वारंट या रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने के लिए दो बार भेजे जा चुके कागजातों में उसके दोनों पासपोर्ट रद्द किए जाने का आदेश भी जोड़ेंगी। सूत्रों ने कहा, एक बार इंटरपोल ये नोटिस जारी कर दे और मोदी की पक्की लोकेशन मिल जाए तो सरकार उसके प्रत्यर्पण की प्रक्रिया शुरू कर देगी। ईडी मुंबई में विशेष अदालत से मोदी को अधिकारिक तौर पर भगोड़ा घोषित करने की भी मांग करेगी। इससे मोदी, उसके परिवार और उससे जुड़ी कंपनियों की करीब 8 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति को तत्काल जब्त किया जा सकेगा।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel