ताज़ा खबर :
prev next

डेढ़ सौ से अधिक वाहनों की चोरी करने वाले 5 बदमाश अरेस्ट

गाज़ियाबाद। कविनगर पुलिस ने दिल्ली एनसीआर में ताबड़तोड़ वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों से पुलिस ने चोरी की पांच स्कूटी व 14 मोटरसाइकिलें बरामद की हैं। आरोपित पूर्व में डेढ़ सौ से अधिक वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। बरामद वाहनों में से 12 वाहनों के मालिकों का पुलिस ने पता लगा लिया है। यह वाहन गाजियाबाद से ही लूटे व चोरी किए गए थे। आरोपित वाहन चोरी के बाद उन्हें मेरठ, मुजफ्फरनगर व संभल ले जाकर बेचते थे। आरोपितों का एक साथी अभी फरार है, पुलिस उसे तलाश रही है।

मंगलवार को एसएसपी वैभव कृष्ण व एसपी सिटी आकाश तोमर ने बताया कि पकड़े गए आरोपित मेरठ परतापुर निवासी रवि कुमार, संजयनगर मेरठ निवासी विक्की ठाकुर, पिलखुआ निवासी अंकुर उर्फ मोगली, अलीगढ़ निवासी रौदास व पिलखुआ निवासी कुलदीप हैं। जबकि इनका एक साथी पिलखुआ निवासी प्रताप फरार है। उन्होंने बताया कि गिरोह का सरगना रवि कुमार है और उसपर पूर्व में लूट व चोरी के 24 मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं।

पकड़े गए आरोपित दिल्ली, नोएडा, मेरठ, गाजियाबाद व फरीदाबाद में वाहन चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। इन बदमाशों ने 29 मई को सेनेट्री कारोबारी आलोक गोयल से उनके घर के बाहर लूट ली थी। इस दौरान बदमाशों ने फायर भी किया था लेकिन कारोबारी के विरोध करने पर वह अपनी मोटरसाइकिल मौके पर छोड़ गए थे।

थाना प्रभारी कविनगर प्रदीप त्रिपाठी ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि गिरोह के सदस्य पुलिस से बचने के लिए आपस में कोडवर्ड का इस्तेमाल करते हैं। वह अपने नाम तो बदलते ही हैं साथ ही वाहनों की रेकी करने से चोरी करने व सुरक्षित स्थान तक ले जाने में कोडवर्ड का इस्तेमाल करते हैं।

प्रदीप त्रिपाठी ने बताया कि चोरी के वाहनों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने व पुलिस की चेकिंग से बचने के लिए गिरोह के सदस्य इन पर पुलिस का स्टीकर लगाते थे। इन स्टीकरों के चलते वह पूर्व में कई बार चेकिंग से बचे भी हैं। पुलिस ने बदमाशों से कुछ ऐसे वाहन भी बरामद किए हैं, जिनपर पुलिस का स्टीकर लगा है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel