ताज़ा खबर :
prev next

फायरिंग के दौरान घायल हुई बच्ची की मौत, लोगों ने किया हंगामा

गाज़ियाबाद। शहर की धोबीयान कॉलोनी में ईद के दिन दो पक्षों में बीच हुए खूनी संघर्ष के बाद हुई फायरिंग में घायल हुई 12 वर्षीय बच्ची मंतसा की मंगलवार देर रात अस्पताल में मौत हो गई। पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने शव को रावली सुराना मार्ग पर रखकर जाम लगा दिया और आरोपितों के गिरफ्तारी की मांग को लेकर जमकर हंगामा किया। पुलिस द्वारा कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद ही हंगामा रहे लोग शांत हुए। इस मामले में पुलिस 35 नामजद व 13 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

बता दें कि धोबीयान कॉलोनी में 14 जून की रात करीब दस बजे नफीस व मोनिस के बच्चों में खेलते वक्त किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इसके बाद दोनों पक्ष लाठी डंडे लेकर आमने-सामने आ गए और दोनों पक्षों में जमकर पत्थरबाजी भी हुई। चौकी प्रभारी अजय कुमार की ओर से इस मामले में 19 लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर सात लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था, लेकिन इसके बाद शनिवार रात करीब 8 बजे के आसपास दोनों पक्ष एक बार फिर सामने सामने आ गए। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ा कि दोनों ओर से पहले लाठी डंडे चले फिर पत्थरबाजी व करीब 60 राउंड फायरिंग भी हुई। फायरिंग के दौरान मौके पर खड़ी एक 12 वर्षीय बच्ची मंतशा को गोली जा लगी और वह गंभीर रूप से घायल हो गई थी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल बच्ची को गाजियाबाद के निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। पुलिस ने इस मामले में घायल बच्ची के मामा चांद निवासी मोहल्ला हकीमपुरा की तहरीर पर 35 नामजद व 13 अज्ञात लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर असलम, सोनू, कल्लू व साजिद को गिरफ्तार कर असलम के कब्जे से 6 जिन्दा कारतूस के अलावा दस कारतूस के खोखे भी बरामद किए थे। इस खूनी संघर्ष में गोली लगने से घायल हुई मंतसा की मंगलवार देर रात अस्पताल में उपचार दौरान मौत हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया।

बुधवार दोपहर दोपहर तीन बजे के आसपास जब परिजन शव लेकर घर पहुंचे तो नाराज लोगों की भीड़ ने रावली सुराना मार्ग पर शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। लोगों का आरोप था कि आरोपित पक्ष खुलेआम घूम रहे हैं और पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर रही है। जिसके चलते आरोपित पक्ष समझौता का दबाब बना रहे हैं। लोगों ने मृतक बच्ची के परिजनों को आर्थिक मदद दिलाने व आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जमकर हंगामा भी किया।

हंगामा बढ़ने की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देकर हंगामा कर रहे लोगों को शांत किया। थाना प्रभारी रणवीर सिंह ने बताया कि मामले में फरार चल रहे आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की दो टीमों का गठन किया गया है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel