ताज़ा खबर :
prev next

मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ गुपचुप चुनावी मंथन में लगे हैं “जनेऊ धारी हिन्दू” राहुल गांधी

आगामी लोकसभा चुनावों के लिए अपनी तैयारियों को लेकर काँग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। अपने खोए हुए मुस्लिम वोट बैंक को वापिस पाने की कवायद में राहुल गांधी देश भर के मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ चुनावी मंथन में लगे हैं। पार्टी सूत्रों के अनुसार मुस्लिम समुदाय में खासा असर रखने वाले ये 30 बुद्धिजीवी पहले राहुल गांधी से दो चरणों में मिलने वाले थे। मगर अब यह मुलाक़ात केवल बुधवार को ही होगी।
इस मुलाक़ात में कांग्रेस अध्यक्ष वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों को लेकर मुसलमान ओपिनियन मेकर्स के की राय जानना चाहते है। इस बैठक में ट्रिपल तलाक, हलाला, कश्मीर और 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर चर्चा होनी है। इस पूरे मसले पर बीजेपी का कहना है कि राहुल गांधी जनेऊ पहनते हैं तो उसे सब को दिखाते हैं, जबकि मुस्लिमों से चुपके-चुपके मिल रहे हैं।
आपको बता दें कि इस बैठक की तैयारी में वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद और कांग्रेस के अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष नदीम जावेद काफी समय से जुटे हैं। लेकिन इस मीटिंग को लेकर कोई भी कांग्रेस नेता आधिकारिक रूप से कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। इस संबंध में कांग्रेस की प्रवक्ता का कहना है कि उनको इस मीटिंग के बारे में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन राहुल गांधी के दरवाजे सब के लिए खुले हुए हैं।
दरअसल, कांग्रेस को 2019 चुनाव में मुसलमान वोट बैंक की चिंता सता रही है, लेकिन इस मामले को सीक्रेट रखना चाहते हैं, क्योंकि उन्हें हिंदू वोट बैंक के खिसकने का डर भी सता रहा है। गुजरात और कर्नाटक चुनाव में अपने तथाकथित सॉफ्ट हिन्दुत्व के सहारे बड़ी मुश्किल से कांग्रेस अपने हिन्दू विरोधी छवि से बाहर निकल पाई है। ऐसे में 2019 लोकसभा चुनाव से पहले इस बैठक का खामियाजा न भुगतना पड़ जाए, कांग्रेस इसी वजह से इस बैठक को सीक्रेट ही रखना चाहती है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad