ताज़ा खबर :
prev next

पंजाब – कांग्रेसी विधायक सुरिन्दर सिंह डोप टेस्ट में फेल

पंजाब में विभीषिका बन चुके नशीली दवाओं के धंधे के खिलाफ चल रही मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की मुहिम को उस समय बड़ा झटका लगा जब खुद कांग्रेस के एक विधायक सुरिन्दर सिंह चौधरी डोप टेस्ट में फेल पाए गए। रविवार (8 जुलाई) को हुए उनके यूरिन टेस्ट में नशीली दवा बेंजोडाइजेपिन के अंश मिले हैं। डॉक्टरों का कहना है कि यह दवा नींद न आने की शिकायत पर दी जाती है। सुरिन्दर सिंह ने अपनी सफाई में कहा कि वे दिमाग को थोड़ी राहत देने के लिए पिछले कुछ दिनों से डॉक्टर के कहने पर यह दवाई ले रहे थे। बता दें कि यह पहला ऐसा अवसर है जब कोई बड़ा नेता डोप टेस्ट में फेल हुआ है।

जनसत्ता में छपी एक खबर के मुताबिक आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई द्वारा कांग्रेसी नेताओं के डोप टेस्ट कराए जाने के सवाल पर लुधियाना (उत्तरी) के कांग्रेसी विधायक राकेश पांडे का कहना है कि वह भेड़चाल में विश्वास नहीं रखते हैं। मंगलवार को वह कुछ वॉर्ड काउंसलरों के साथ निगम आयुक्त से मिलने गए हुए थे। उन्होंने कहा कि हमें नशा खत्म करने पर जोर देना चाहिए। सरकार इसके लिए निरंतर काम कर रही है। वहीं, बरनाला जिले में अधिक नशा कर लेने से दो घरों के चिराग बुझ गए, जबकि तरनतार में एक घर में एक युवक की मौत की खबर है।

आपको बता दें कि हाल ही में पंजाब की सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों का डोप टेस्ट कराने का फैसला लिया था। सोमवार को कैबिनेट समीति की समीक्षा बैठक हुई, जिसकी अध्यक्षता सीएम कर रहे थे। राज्य सरकार का नशा विरोधी अभियान कितना कारगर साबित हुआ यह जानने के लिए सीएम ने बैठक में सभी पुलिसकर्मियों और सरकारी कर्मचारियों का डोप टेस्ट कराने की प्रक्रिया शुरू कराने के दिशा-निर्देश दिए थे।

हालांकि, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने डोप टेस्ट को लेकर सरकारी कर्मचारियों को राहत देते हुए यह भी कहा था कि जो पॉजिटिव पाए गए, उन्हें सजा नहीं मिलेगी। न ही उनको नौकरी से बर्खास्त कर दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने वाले कर्मचारियों का इलाज कराया जाएगा। यही नहीं, उनके परीक्षण से जुड़ी सभी जानकारियों गुप्त रखी जाएंगी।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad