ताज़ा खबर :
prev next

शर्मनाक : शादी के बाद पति ने की ‘निर्भया कांड’ जैसी हैवानियत, रिपोर्ट दर्ज

मोदीनगर निवाड़ी थाना क्षेत्र की एक युवती के निजी अंग में पति ने सुहागरात में रॉड डाल दी। घटना आठ जुलाई की बागपत के एक गांव की है। आरोप है कि मनमाफिक दहेज नहीं मिलने से खफा पति ने इस घटना को अंजाम दिया। वह पेशे से शिक्षक हैं। अगले दिन युवती से मिलने गए परिजनों को वह ससुराल में बेहोश मिली। पीड़िता का मोहन नगर अस्पताल में दो बार आपरेशन हुआ है। सिंघावली अहीर पुलिस ने उसके पति, ससुर, देवर और सास के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

नवविवाहिता निवाड़ी थाना क्षेत्र की एक गांव की रहने वाली है। युवती के पिता नहीं हैं। युवती के चाचा और भाइयों ने आठ जुलाई को उसका निकाह बागपत जिले में थाना सिंघावली अहीर के एक गांव निवासी शिक्षक से किया। निकाह में हैसियत से ज्यादा करीब दस लाख रुपये खर्च किए गए। इसके बावजूद ससुराल पक्ष दहेज से खुश नहीं थे। निकाह के अगले दिन नौ जुलाई को लड़के वाले के यहां कार्यक्रम था। निवाड़ी से परिवार के लोग भी गए थे।

बड़े भाई ने बताया कि परिवार के लोग रीति-रिवाज का बहाना बनाकर बहन से मिलने नहीं दे रहे थे। बड़ा भाई किसी तरह अंदर गया तो देखा कमरे में उसकी बहन खून से लथपथ अर्द्धबेहोशी की हालत में पड़ी थी। बड़े भाई ने बहनोई और परिवार के लोगों से पूछा तो वह लोग लड़ने-झगड़ने लगे। नोकझोंक होने पर रिश्तेदारों ने बीचबचाव किया। फिर परिजन गंभीर हालत में विवाहिता को मेरठ के जसवंत राय अस्पताल में ले गए। वहां से युवती को रेफर कर दिया गया।

परिवार के लोगों ने नौ जुलाई की देर रात उसे लेकर मोहननगर के नरेंद्र मोहन अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़िता की लगातार बिगड़ रही हालत और रक्तस्त्राव के कारण अब तक दो आपरेशन हो चुके हैं। अस्पताल में पीड़िता का ऑपरेशन होने के बावजूद उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

परिजनों ने मामले की शिकायत बागपत के सिंघावली अहीर थाने में की है। युवती के भाई ने बताया कि मामला दहेज का है। दहेज से नाखुश होकर ससुराल वालों ने उसकी बहन के साथ हैवानियत की है।

थाना प्रभारी ओमवीर ने बताया कि विवाहिता की परिजन की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया कर लिया गया है। पति नदीम, ससुर असधर व सास और देवर के खिलाफ हत्या का प्रयास, घरेलू हिंसा और दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस जल्द ही अस्पताल प्रबंधन से बात कर पीड़िता के घावों की प्रकृति व दूसरी जानकारी लेगी।

युवती के बड़े भाई ने बताया कि चार दिन बाद भी उसकी बहन जिंदगी-मौत से जूझ रही है। उसके दो आपरेशन हो चुके हैं। फिर भी होश में नहीं आई है। उसकी गंभीर हालत बनी है। पीड़ित युवती के परिवार से जुड़ी एक महिला का आरोप है कि युवती के साथ पूरी रात हैवानियत की गई थी। जिसके निशान उसके शरीर पर साफ दिखाई दे रहे थे। जगह-जगह शरीर पर मारपीट और सिगरेट से दागने जैसे निशान थे। रॉड अथवा किसी डंडे से युवती के गुप्तांग को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। महिला के मुताबिक कोई भी इंसान अपने होशो-हवास में ऐसा कृत्य नहीं कर सकता। ऐसा लगता है कि आरोपी पति शराब अथवा किसी अन्य प्रकार के नशे में था, जिसके चलते उसने ऐसी हैवानियत को अंजाम दिया।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel