ताज़ा खबर :
prev next

योगी आदित्यनाथ के हाथों ही तय है अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास

योगी आदित्यनाथ सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी का कहना है कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने का शुभ काम मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के शुभ हाथों से ही होगा। मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी आरएसएस के अनुषांगिक संगठन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के कार्यक्रम में बोल रहे थे।
राष्ट्रीय मुस्लिम मंच ने योजना बनाई था कि सरयू नदी के तट पर 1500 मुस्लिम गुरुवार को सरयू नदी के तट पर नमाज अदा करेंगे। वहीं पांच लाख बार कुरआन की आयतों का पाठ भी किया जाएगा। लेकिन इस कार्यक्रम को हिंदूवादी नेताओं और हनुमानगढ़ी के विरोध के बाद रद्द कर दिया गया। इसके बाद यह कार्यक्रम पास ही की एक मजार पर आयोजित किया गया।

कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आए मंत्री ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि योगी जी का राम मंदिर बनाने का संकल्प अटल है। उनके कार्यकाल के दौरान ही राम मंदिर बनकर रहेगा। वहीं कार्यक्रम में मंचासीन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के नेताओं ने जमकर उन हिंदूवादी नेताओं की आलोचना की जिन्होंने सरयू नदी के तट पर आयोजित कार्यक्रम को रोकने के लिए बयान दिए थे। इस कार्यक्रम में मुस्लिमों की तादाद भी बेहद कम थी।
बता दें कि राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के इस आयोजन का विरोध हनुमानगढ़ी के साधू बाबा राजू दास और शिवसेना के नेता संतोष दुबे और हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी ने किया था। विरोध के बाद मंच ने कार्यक्रम स्थल को बदलने की घोषणा कर दी थी। मंच के नेता रज़ा रिज़वी ने कहा हम सौहार्द बढ़ाने के लिए आए थे लेकिन अब विरोध हो रहा है, हम कोई विवाद नहीं चाहते हैं इसीलिए हमने सरयू तट पर कार्यक्रम को रद कर दिया है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad