ताज़ा खबर :
prev next

सुंदर भाटी, विक्की त्यागी और मोनू राणा गैंग के 5 बदमाश गिरफ्तार, हथियार और नगदी बरामद

गाज़ियाबाद में क्राइम ब्रांच और थाना सिहानी गेट पुलिस ने सुंदर भाटी, विक्की त्यागी और मोनू राणा गैंग से जुड़े 5 बदमाशों को शनिवार देर रात राजनगर एक्सटेंशन के पास से गिरफ्तार किया। बदमाशों के पास से पुलिस ने कार्बाइन और 9 एमएम की पिस्तौल भी बरामद की है। एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों में 1 लाख रुपये का इनामी अमर सिंह, 50 हजार का इनामी डीके उर्फ धर्मेंद्र, विक्की त्यागी का बेटा अर्पित त्यागी, हरियाणा के मोनू राणा गैंग के कुलदीप और अनुज शामिल हैं।

वेस्टर्न यूपी में कई हत्याओं की थी प्लानिंग

एडीजी के अनुसार, पकड़े गए बदमाश 3 अलग-अलग गैंग (सुंदर भाटी, विक्की त्यागी और मोनू राणा) से जुड़े हुए हैं। अपनी-अपनी रंजिश की वजह से ये सभी वेस्टर्न यूपी में कई हत्या करने के लिए एक साथ आए थे। इसमें पहली हत्या वह बागपत के रहने वाले संदीप बली की करने वाले थे। संदीप से अमर की रंजिश थी। उसने अमर के भाई को शाहदरा से उठवाकर उसके साथ मारपीट की थी। ऐसे में वह अपने भाई के लिए उसकी हत्या करना चाहता था। इसके लिए उन्होंने तीन महीने पहले संदीप की गाजियाबाद कोर्ट में पेशी के दौरान रेकी भी की थी। वे लोग 9 एमएमए की पिस्तौल लेकर मर्डर के लिए तैयार थे, लेकिन वह उस दिन आया नहीं था।

सुंदर भाटी के कहने पर की थी बीजेपी नेता की हत्या

एडीजी ने बताया कि अमर सिंह उर्फ मूंछ सुंदर भाटी गैंग से जुड़ा हुआ है। अमर सिंह ने नवंबर 2017 में ग्रेटर नोएडा के बिसरख में हुए बीजेपी नेता शिवकुमार हत्याकांड में भी शामिल होने की बात कबूल की है। इस मामले में सुंदर भाटी ने उसे लगाया था। उसने भी शिवकुमार पर कार्बाइन से फायरिंग की थी। इस मामले में एसटीएफ 3 आरोपितों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। फरार अमर सिंह पर 1 लाख रुपये का इनाम भी रखा गया था। पूछताछ में अमर ने बताया कि इस हत्या के लिए उसे सिर्फ 30 हजार रुपये मिले थे, लेकिन सुंदर भाटी के कहने पर उसने यह काम किया था।

वहीं विक्की त्यागी गैंग से उसके बेटे ने अन्य बदमाशों से हाथ मिलाया था। इसके पीछे वजह 2015 में कोर्ट में पेशी के दौरान हुई पिता की हत्या का बदला लेना था। वह पिता की हत्या के लिए शामली में रहने वाले सौरभ और उसके सगे भाई की हत्या करना चाहता था। इसके लिए उसकी सबसे ज्यादा मदद अमर सिंह कर रहा था। अर्पित ने अपने पिता से मिली कार्बाइन भी अमर को दी थी। इसी कार्बाइन को पुलिस ने अमर सिंह के पास से बरामद किया है।

पुलिस ने शनिवार को मोनू के गैंग के भी 2 बदमाश कुलदीप और अनुज को गिरफ्तार किया है। एडीजी ने बताया कि मोनू गैंग हरियाणा में कुख्यात है। दोनों वेस्टर्न यूपी में अपने दबदबे के लिए सुंदर भाटी और विक्की त्यागी गैंग के साथ आए थे। पुलिस के अनुसार कुलदीप और अनुज ने ही 3 महीने पहले पंजाब के मोहाली में गायक नवजोत की कार लूट के दौरान 8 गोली मारकर हत्या की थी। दोनों ने कुछ दिन पहले ही पंजाब में एक कर्नल से आई-20 कार भी लूट ली थी। जिसे पुलिस ने बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद बरामद कर लिया है।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार डीके उर्फ धर्मेंद्र भी सुंदर भाटी गैंग का मेंबर है। वह गैंग को कार लूट करने के बाद दिया करता था। डीके ने इंदिरापुरम में 4 जून को 13 लाख रुपये की लूट की थी। इसके बाद उस पर 50 हजार रुपये का इनाम रखा गया था। डीके ने हाल ही में सिकंद्राबाद से एक लग्जरी कार भी चोरी की थी। डीके बीकॉम करने के बाद लूटपाट करने लगा था।

 

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel