ताज़ा खबर :
prev next

चोरी का वाहन चलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार

कविनगर पुलिस ने नंबर बदलकर चोरी के वाहनों को चलाने वाले गिरोह के तीन लोगों को गिरफ्तार किया। इनमें एक मेरठ के परिवहन विभाग का दलाल है जो चोरी की गाड़ी के आरसी व चेस नंबर से अन्य चोरी की गाड़ियों के दस्तावेज बनवा देता था। आरोपी अंतर्राजीय स्तर पर नंबर बदलकर वाहनों का ट्रांसफर करते थे।

क्षेत्राधिकारी द्वितीय आतिश कुमार ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में चोरी के वाहनों का चेस नंबर बदलकर वाहन चलाने वाला गिरोह काम कर रहा है। पुलिस ने रविवार को चेकिंग के दौरान एनएच- 24 पर धर्मकांटा से चोरी के कैंटर समेत शहजाद निवासी हापुड़ को गिरफ्तार किया। शहजाद की निशानदेही पर औद्योगिक क्षेत्र मुखर्जी पार्क के पास से मनोज गुप्ता और रामजीलाल निवासी मेरठ को गिरफ्तार किया और चार वाहन बरामद किए। मनोज गुप्ता मेरठ के परिवहन विभाग में दलाली का काम करता है और रामजीलाल व शहजाद चोरी के वाहनों को खरीदकर ट्रांसपोर्ट का काम करते हैं।

इस गिरोह में वाहन मालिक भी शामिल हैं। वाहन मालिक वाहनों की चोरी करवा कर कटवा देते थे और उन पर इंश्योरेंस लेकर रुपये एंठते थे। आरोपियों के पास से पुलिस ने दो ट्रक और तीन छोटे वाहन बरामद किए हैं। गिरोह में अन्य ट्रांसपोर्टर और आरटीओ विभाग के अधिकारियों के जूडे होने की संभावना है, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

कैसे पकड़ में आए आरोपी

कविनगर एसओजी प्रभारी प्रजंत त्यागी ने बताया कि भारी वाहनों में केबिन के नीचे कंप्रेशर लगा होता है जो वर्ष 2016 के बाद से वाहनों में लगा आ रहा है। बरामद वाहनों के दस्तावेजों की जांच की गई तो वाहन का नंबर वर्ष 2014 का था।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel