ताज़ा खबर :
prev next

यूरोपियन यूनियन ने गूगल पर लगाया रेकॉर्ड 34 हज़ार करोड़ रुपयों का जुर्माना, जानिए क्यों !

यूरोपियन संघ के कमिश्नर मारग्रेथ वेस्टेजर ने गूगल कंपनी पर रेकॉर्ड 4.34 बिलियन यूरो अर्थात करीब 34,308 करोड़ रुपए का जुर्माना लगा है। यह जुर्माना गैरकानूनी तरीके से ऐंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल अपने सर्च इंजन के फायदे के लिए करने के आरोप में लगाया है। मारग्रेथ वेस्टेजर ने कहा, ‘गूगल ने ऐंड्रॉयड का इस्तेमाल अपने सर्च इंजन को मजबूत करने के लिए किया है। यह यूरोपीय यूनियन के ऐंटीट्रस्ट नियमों के हिसाब से गैरकानूनी है।’ उन्होंने कहा, ‘गूगल को 90 दिनों के भीतर इसे बंद कर देना चाहिए वरना उसे अल्फाबेट से होने वाली आमदनी का 5 प्रतिशत रोज जुर्माने के तौर पर भरना पड़ेगा।’

नवभारत टाइम्स में छपी एक खबर के अनुसार गूगल का कहना है कि वह इस जुर्माने के खिलाफ अपील करेगा। गूगल के प्रवक्ता अल वर्नी ने कहा, ‘ऐंड्रॉयड लोगों को ज्यादा विकल्प देने के लिए बनाया गया है। यह रैपिड इनोवेशन और अच्छी सुविधाओं की कीमत कम करने में मदद करता है।’ इससे पहले यूरोपीय यूनियन ने गूगल पर 2.4 अरब यूरो का जूर्माना लगाया था। इस बार लगा जुर्माना पिछले से दोगुना है। इस फैसले के बाद ट्रेड वॉर का खतरा और बढ़ गया है। बता दें कि राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने यूरोप से स्टील और ऐल्युमिनियम के आयात पर शुल्क लगा दिया है।

सूत्रों के मुताबिक यूरोपियन यूनियन के कमिश्नर वेस्टेजर ने यह कदम उठाने से पहले गूगल के चीफ सुंदर पिचाई से फोन पर बात की और अपने फैसले के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि गूगल कई फोन बनाने वाली कंपनियों को पहले से गूगल क्रोम ब्राउजर इंस्टॉल करने के लिए विवश करता है। कुछ ऐप्स को लाइसेंस देने के लिए गूगल सर्च करना पड़ता है और यूरोपीय यूनियन में बेचे जाने वाले फोन में भी गूगल सर्च और क्रोम पहले से इंस्टॉल रहता है।

कमिशन का कहना है कि गूगल फोन कंपनियों को पहले से गूगल सर्च इंस्टॉल करने के लिए धनराशि भी देता है। वेस्टेजर के इन फैसलों से उन्हें यूरोपीय यूनियन के देशों में काफी प्रशंसा मिली है लेकिन वॉशिंगटन में इसके खिलाफ गुस्सा है। यूरोप में इंटरनेट सर्च पर सिलिकॉन वैली के बढ़ते प्रभुत्व को लेकर ब्रुसेल्स लगातार टारगेट करता रहा है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad