ताज़ा खबर :
prev next

आश्चर्य किन्तु सत्य – तबादले का आदेश मिलते ही गर्भवती हो गईं यूपी की 82 शिक्षिकाएँ

गर्भ धारण करना किसी भी महिला के लिए गर्व की बात है। परंतु यदि कोई महिला अपने तबादले के आदेश रोकने के लिए गर्भवती होने की सूचना दे तो यह आश्चर्य की बात है। इससे भी अधिक आश्चर्य की बात है 82 अध्यापिकाओं का एक साथ गर्भवती होना। दरअसल अंतर जनपदीय ट्रांसफर पर बरेली आईं 410 शिक्षिकाओं में से 82 गर्भवती हो गई हैं और इसका कारण है उनका शहर से दूर इलाके में तैनाती से बचना।
बरेली जिले में पिछले दिनों 410 महिला और 5 पुरुष शिक्षक ट्रांसफर होकर आये थे। अंतर जनपदीय ट्रान्सफर अऔर काउंसलिंग के बाद सभी शिक्षकों को स्कूल आवंटित कर दिए गए। नियमों के अनुसार दूर दराज के खाली पड़े स्कूलों में ही इनकी तैनाती की गई। दूर के स्कूलों में तैनाती होते ही नजदीक के स्कूल पाने की जंग शुरू हो गई। स्कूल बदलने के सम्बंध में अभी तक बीएसए के पास लगभग 250 आवेदन आ चुके हैं। बदलाव के लिए शिक्षिकाओं ने विभिन्न कारण बताए हैं। सबसे ज्यादा 82 शिक्षिकाओं ने गर्भवती होने के कारण पास के स्कूलों में तैनाती की मांग की है। खुद बीएसए भी इन आवेदनों को देखकर चक्कर में पड़ गई है।
हिंदुस्तान टाइम्स में छपी खबर के अनुसार नई तैनाती के लिए बताए गए कारणों में दूसरे नम्बर पर रीढ़ सम्बन्धी दिक्कत है। अभी तक 32 शिक्षिकाओं ने इस कारण से पास के स्कूल में तैनाती मांगी हैं। करीब दर्जन भर शिक्षिकाओं को अपने बूढ़े सास ससुर की भी चिंता सता रही है। तो कुछ दूध मुंहे बच्चों की खातिर घर के पास तैनाती चाहती हैं। कुछ ही आवेदन ऐसे हैं जिसमें साफ साफ लिखा है कि वो दूरी के कारण सम्बंधित स्कूल में जॉब नहीं कर पाएंगी। आसपास के स्कूलों में तैनाती के लिए सिफारिशों का भी अम्बार लगा हुआ है। केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार, सांसद धर्मेंद्र कश्यप, विधायकों के साथ-साथ एमएलसी जयपाल व्यस्त तक के सिफारिशी पत्र आ रहे हैं।
बीएसए तनुजा मिश्रा ने बताया कि कोई भी दूर के स्कूल में जाना नहीं चाह रहा है। ऐसे में इन स्कूलों में पढ़ाई कैसे होगी? 60 फीसदी महिलाओं ने तो गर्भवती होने का हवाला दिया है। इनमें बहानेबाज ज्यादा लग रहे हैं। झूठ-सच की पहचान कर वास्तव में जिसकी बात सही होगी, उस पर ही मानवीय दृष्टिकोण से फैसला लिया जाएगा।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad