ताज़ा खबर :
prev next

सिटिज़न वॉलंटियर फोर्स को मिला डीजीपी का समर्थन, आईपीएस आकाश तोमर का है ड्रीम प्रोजेक्ट

यदि शहर के जागरूक नागरिक मिलकर कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए पुलिस के साथ कंधे-से-कंधा मिलकर खड़े हो जाएं तो कैसा रहे? यह विचार हर नए-नए आईपीएस अधिकारी के दिमाग में आता है, मगर बहुत कम ही ऐसे होंगे जो इस काम के लिए समय भी निकाल पाएँ। मगर 2013 बैच के आईपीएस आकाश तोमर की बात ही कुछ निराली है।

मल्टी नेशनल कंपनी की मोटी तंख्वाह वाली आरामदेह नौकरी छोड़ कर आईपीएस सेवा में आए आकाश तोमर ने गाज़ियाबाद में अपनी नियुक्ति के कुछ दिन बाद ही उद्यमियों की संस्था आईएएमए के एक समारोह में स्वयंसेवकों के एक ऐसे दल की परिकल्पना साझा की जो शहर की कानून-व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए पुलिस का सहयोग करे। समारोह में मौजूद आईएएमए के महासचिव और “हमारा गाज़ियाबाद” के मैनिजिंग एडिटर अनिल गुप्ता ने आकाश तोमर के इस विचार को हाथों-हाथ लिया और उसे गाज़ियाबाद की विभिन्न आरडबल्यूए और एओए के पदाधिकारियों के साथ मिलकर अमली जमा पहनाने का वादा किया। जन सहयोग के इस काम में एओए के चेयरमैन आलोक कुमार ने भी अपनी रुचि दिखाई और जल्द ही करीब 250 स्वयं सेवकों का समूह तैयार हो गया जिसको “सिटिज़न वॉलंटियर फोर्स” का नाम दिया गया।

आज सिटिज़न वॉलंटियर फोर्स (सीवीएफ़) से ढाई हज़ार से भी ज्यादा स्वयं सेवक जुड़े हुए हैं और गाज़ियाबाद के हर थाना क्षेत्र में इसकी टीमें तैनात है। अपने गठन के कुछ दिन बाद ही काँवड़ यात्रा के दौरान शहर में शांति-व्यवस्था बनाए रखने और यातायात संचालन में पुलिस को सहयोग देकर सीवीएफ़ के स्वयंसेवकों ने अपनी उपियोगिता साबित कर दी। शिवरात्रि के दिन शहर के ऐतिहासिक दुद्धेश्वर नाथ मंदिर में डेढ़ लाख से भी अधिक भक्तों की भीड़ को नियंत्रित रखने में सीवीएफ़ के सदस्यों की चारों ओर प्रशंसा की गई। ट्रांस हिंडन एरिया के एक सदस्य द्वारा दी गई सूचना के आधार पर मानव तस्करी की शिकार महिलाओं को दासता से मुक्ति मिली। इसके अलावा होली, ईद, रामलीला और जन्माष्टमी जैसे सार्वजनिक समारोहों में भी सीवीएफ़ के सदस्यों ने गाज़ियाबाद पुलिस के साथ मिलकर काम किया। आकाश तोमर के नेतृत्व में सीवीएफ़ के सदस्यों ने शहर की विभिन्न रेसिडेंट वेलफ़ेयर एसोशिएशन्स को सीसीटीवी लगाने के लिए प्रेरित किया जिसके परिणाम स्वरूप आज गाजियाबाद की अनेक आरडबल्यूए अपने सीसीटीवी की फुटेज पुलिस के साथ साझा कर रही हैं जिससे अनेक अपराधियों को पकड़ने में सफलता मिली है।

आज सिटीजन वॉलंटियर फोर्स को मिली सफलताओं की चर्चा पूरे उत्तर प्रदेश में हो रही है और उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिरीक्षक ओ पी सिंह ने प्रदेश के सभी 1,469 थानों में सीवीएफ़ की तर्ज कर स्वयंसेवकों के समूह गठन करने का फैसला किया है। हम आशा करते हैं कि प्रदेश पुलिस जल्द ही समितियों का गठन कर इसे अमली जमा पहनाएगी। सीवीएफ़ के आइडिया को मूर्त रूप देने और जबरदस्त कामयाबी दिलवाने वाले एसपी सिटी आकाश तोमर को हमारा गाज़ियाबाद टीम की हार्दिक बधाई।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad