ताज़ा खबर :
prev next

सैंपल सैटेलाइट सर्वे के परिणाम होंगे दूरगामी, जनता करे सहयोग – एमएनए चंद्र प्रकाश सिंह

गाज़ियाबाद नगर निगम के सबसे अधिक राजस्व देने वाले 10 वार्डों में इन दिनों सैटेलाइट सर्वे का काम चल रहा है। केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर कराए जा रहे इस सैंपल सर्वे की ज़िम्मेदारी रीजनल सेंटर फॉर अर्बन एंड एनवायरनमेंटल स्टडीस (आरसीयूईएस) को दी गई है। उत्तर प्रदेश में यह सर्वे निजी क्षेत्र की एक कंपनी जीआईएस कंसोर्टीयम के माध्यम से किया जा रहा है जिसका मुख्यालय नोएडा में है।

इस सर्वे का उद्देश्य अर्बन एरिया में औद्योगिक, व्यावसायिक, शैक्षणिक, सार्वजनिक, और निजी उपयोग में लाई जा रही इमारतों के बारे में प्रामाणिक जानकारी एकत्र करना है। नगरायुक्त चंद्र प्रकाश सिंह ने बताया कि इस सर्वे के माध्यम से सरकार को शहरों में भूमि के वर्तमान उपयोग के बारे में सटीक जानकारी एकत्र कर भविष्य के लिए योजनाएँ बनाने में सहायता मिलेगी। इस सर्वे के तहत शहरी क्षेत्रों की टोपोग्राफी करके हरित क्षेत्र, जल संसाधनों, अस्पतालों और सड़कों के विस्तार आदि की जानकारी भी एकत्र की जाएगी।

नगरायुक्त ने बताया कि फिलहाल प्रयोग के तौर पर यह सर्वे गाज़ियाबाद के सबसे अधिक राजस्व देने वाले दस वार्डों में कराया जा रहा है। जिन वार्डों में सर्वे का काम चल रहा है उनमें वार्ड नंबर (पुराने) 78, 41, 36, 59, 04, 62, 64, 68, 16 और 17 शामिल हैं। केंद्र सरकार की अमृत योजना के तहत हो रहे इस सर्वे से एकत्र जानकारी का उपयोग हाउस टैक्स संबंधी शिकायतों को दूर करने के लिए भी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सर्वे का यह काम निगम के शेष 90 वार्डों में भी जल्द शुरू होने जा रहा है। गाज़ियाबाद की जनता से सैंपल सर्वे में सहयोग की अपील करते हुए नगरायुक्त ने कहा कि इस सैंपल सर्वे से मिली जानकारी से गाज़ियाबाद के लिए भविष्य की योजनाएँ बनाने में सहायता मिलेगी।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad