ताज़ा खबर :
prev next

जर्जर दीवारों के बीच पढ़ने को मजबूर हैं छात्र-छात्राएं

साहिबाबाद स्थित ट्रांस हिंडन में ऐसा प्राथमिक है जहाँ की दीवारे मौत को दावत दे रही है। साथ ही नगर निगम के विद्यालय की दरकती दीवारें कभी भी हादसे का शिकार हो सकती हैं। इन विद्यालयों में सैकड़ों की संख्या में छात्र-छात्राएं अपने जीवन को रोशन बनाने के लिए आते हैं लेकिन कब उनका जीवन अंधकार में डूब जाए इसका भगवान ही मालिक है। सालों से जर्जर भवनों की ना तो मरम्मत की गई है और ना ही प्रशासनिक अधिकारियों ने इस ओर कोई ध्यान दिया है। इसमे पढ़ने वाले बच्चे अपनी जान हथेली पर लिए रहते है।

साहिबाबाद जीटी रोड स्थित प्राथमिक विद्यालय अर्थला का भवन बेहद जर्जर हो चुका है। बीते कुछ दिनों से हो रही बारिश के कारण यहां के खाली मैदान व भवनों के आसपास के गड्ढों में बरसाती पानी भर गया है ,बरसाती पानी भरे होने से भवन की सुरक्षा भी खतरे में आ गई है। कक्षाओं का प्लास्टर टूट चुका है साथ ही स्कूल परिसर में जगह-जगह प्लास्टर टूटकर गिर रहा है जो इसकी जर्जर हालत की कहानी खुद-ब-खुद बयां करता है।

स्कूल के शिक्षकों का कहना है कि उन्होंने नगर शिक्षा अधिकारी और जिलाधिकारी कार्यालय को इस मामले में सूचित किया हुआ है लेकिन अभी तक कोई सुधार नहीं हुआ है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Subscribe to our News Channel