ताज़ा खबर :
prev next

आय प्रमाण पत्रों से काली कमाई का खेल, एक ही हफ्ते में घटा दी गई 36 हजार की आय

गाज़ियाबाद तहसील विभाग से बन रहे आय प्रमाण पत्रों में नया खेल सामने आया है। एक महीने में जारी 65 आय प्रमाण पत्र एक ही धनराशि के बना दिए गए। यही नहीं एक महीने पहले एक व्यक्ति का आय प्रमाण पत्र 96 हजार रुपये और एक सप्ताह बाद ही आय प्रमाण पत्र 36 हजार रुपये कम कर 60 हजार रुपये का बनाकर रिलीज कर दिया गया।

डीएम ने इस प्रकरण की जांच अपर जिलाधिकारी प्रशासन जितेन्द्र सिंह को सौंपी है। डीएम रितु माहेश्वरी ने इस मामले में एडीएम प्रशासन जितेन्द्र सिंह शर्मा को पत्र भेजा है। पत्र में डीएम ने आय प्रमाण पत्रों में चल रहे खेल को उजागर किया है। डीएम ने पत्र में बताया कि मई महीने में सदर तहसील से कुल 65 प्रमाण पत्र जारी किए गए। यह सभी आय प्रमाण पत्र 60 हजार रुपये की एक ही राशि के जारी किए गए। जो एक गंभीर मामला है।

डीएम ने अपने पत्र में बताया है कि जनकपुरी निवासी जय प्रकाश के नाम से आय प्रमाण पत्र संख्या 92181010734 दिनांक 19 मई को इसी वर्ष जारी किया गया, जिसमें 96 हजार रुपये की आय दिखाई गई। इसके बाद इसी व्यक्ति के नाम से 26 मई को एक सप्ताह बाद फिर से आय प्रमाण पत्र जारी किया गया। इस प्रमाण पत्र की संख्या 92181011487 है। यह प्रमाण पत्र 60 हजार रुपये का जारी किया गया। पत्र में डीएम ने इस पर खेल की आशंका व्यक्त की है।
उनका कहना है कि कैसे एक ही व्यक्ति की आमदनी एक सप्ताह के अंदर ही घटकर 36 हजार रुपये कम हो सकती है। उन्होंने अपर जिलाधिकारी प्रशासन से इस प्रकरण की जांच कराए जाने को कहा है। साथ ही डीएम ने इस मामले में संबंधित लेखपाल की वर्किंग पर भी सवाल खड़े किए। संबंधित लेखपाल से भी इस मामले में जवाब तलब कर रिपोर्ट देने को कहा गया है।