ताज़ा खबर :
prev next

कांवड़ यात्रियों को रास्ता दिखाएगा ‘कांवड़ यात्रा मैनेजमेंट ऐप’

गाज़ियाबाद में कांवड़ियों की सुरक्षा व सुविधा के लिए पुलिस व प्रशासन ने कई इंतजाम किए हैं। कांवड़ियों की भीड़ को देखते हुए कई रूट पर ट्रैफिक डायवर्जन के साथ ही कैंपों में सुरक्षा व मेडिकल की व्यवस्था पुख्ता की गई है। यही नहीं जिला प्रशासन ने मेरठ मंडल स्तर पर एक ऐप भी तैयार किया है, जिससे कांवड़ियों को कई तरह की जानकारियां मिल सकेंगी।

प्रशासन की ओर से मेरठ डिविजन के लिए कांवड़ यात्रा ‘मैनेजमेंट ऐप’ नाम से एक खास ऐप तैयार किया गया है। इसे ब्रेनमार्क इन्फोमीडिया प्राइवेट लिमिटेड के सहयोग से बनाया गया है। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर जाकर कांवड़ यात्रा ‘मैनेजमेंट ऐप’ नाम से डाउनलोड कर सकते हैं। इस ऐप के माध्यम से कांवड़ियों को यह पता लग सकेगा कि उनकी मौजूदा लोकेशन के सबसे पास में कौन-सा कांवड़ शिविर है, कहां मेडिकल सुविधाएं मिलेंगी, एंबुलेंस कहां मिलेगी।

ऐप पर अलग-अलग कैटिगरी का ऑप्शन दिया गया है। मेडिकल पॉइंट वाले ऑप्शन पर क्लिक करने पर आपको मेडिकल कैंप के अलावा एरिया के संबंधित डॉक्टर का नाम व मोबाइल नंबर भी मिल जाएगा। इसके अलावा ऐप पर ये भी पता चलेगा कि आपकी लोकेशन से सबसे नजदीक पुलिस चौकी व थाना कहां है। एडीएम सिटी हिमांशु गौतम ने बताया कि इस ऐप से कांवड़ियों की यात्रा सुरक्षित और सुविधा जनक हो सकेगी।

SSP वैभवकृष्ण ने बताया कि कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए पुलिस के पुख्ता प्रबंध किए हैं। संदिग्धों पर ड्रोन व सीसीटीवी कैमरों से भी नजर रखी जाएगी। इसके अलावा गाज़ियाबाद पुलिस की कमांडो टीम भी विभिन्न एरिया में तैनात रहेगी। कांवड़ शिविरों पर भी पुलिस की नजर रहेगी। हर शिविर में सीसीटीवी कैमरे लगाने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि गाज़ियाबाद-दिल्ली रूट पर बड़ी संख्या में कांवड़िए निकलते हैं।

ऐसे में सुरक्षा के लिए विभिन्न पॉइंट्स पर करीब 16 फीट हाइट के 25 वॉच टावर बनाए जाएंगे। इसमें हथियारों से लेस पुलिसकर्मी 24 घंटे तैनात रहेंगे। यह टावर मेरठ रोड पर पांच नंबर भट्टा, घूकना मोड़, नंदग्राम कट, एएलटी चौराहा और मेरठ रोड तिराहा, हिंडन पुल के पास, अर्थला के सामने, मोहननगर चौराहा समेत यूपीगेट और ज्ञानी बॉर्डर तक कई जगहों पर बनाए जाएंगे।