ताज़ा खबर :
prev next

बाड़मेर : सोशल मीडिया पर लिखा दलितों के खिलाफ, 17 पर लगाया एससी/एसटी एक्ट, पुरोहितों का बहिष्कार

राजस्थान के बाड़मेर जिले में राजपुरोहित समुदाय की ओर से 70 दलित परिवारों को गांव से बहिष्कृत करने का मामला सामने आया है। यह घटना बाड़मेर के कालुदी गांव की है। जहां बाड़मेर के जिला प्रमुख का भी घर है। दरअसल गांव के रहने वाले दिनेश उर्फ दाना राम मेघवाल ने बीते 16 अगस्त को बलतोरा पुलिस थाने में एक एफआईआर दर्ज करायी थी। अपनी शिकायत में दिनेश ने गांव के राजपुरोहित समुदाय द्वारा गांव के 70 दलित परिवारों का बहिष्कार करने की बात कही गई है।

एफआईआर के अनुसार, राजपुरोहित समुदाय के युवकों ने सोशल मीडिया पर दलितों के खिलाफ अपमानजनक बातें लिखी थीं। जिसके बाद नजदीक के ही बैती गांव के निवासी रावतराम ने राजपुरोहित समुदाय के इन युवकों के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करा दिया था। इस बात से नाराज होकर राजपुरोहित समुदाय ने इस संबंध में एक बैठक बुलायी। इस बैठक में गांव के 70 दलित परिवारों को गांव से बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया। गौरतलब है कि हाल के दिनों में दलितों और सवर्णों के बीच की खाई और गहरी हुई है। वोट बैंक को लेकर की गई राजनीति के दौरान दलित समाज द्वारा तमाम हिंदू आस्थाओं पर प्रहार किया जा रहा है। स्थानीय लोगों का यह भी आरोप है कि दलित समाज भगवान राम हनुमान आदि उनके आस्था के प्रति को पर लगातार प्रहार कर रहा है जिसकी वजह से पूरे हिंदू समाज उनके खिलाफ हो रहा है।

सोशल मीडिया पर पोस्ट के बाद 17 लोगों पर एससी/एसटी एक्ट

दिनेश मेघवाल की शिकायत पर बलतोरा पुलिस ने राजपुरोहित समुदाय के 17 लोगों मुकेश सिंह, घेवर सिंह, पदम सिंह, सुरेश सिंह, एदान सिंह और नैन सिंह आदि के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 143, 341, 3(1) और एससी/एसटी एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
बाड़मेर एसपी मनीष अग्रवाल ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। फिलहाल गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है। एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार के अनुसार, गांव से बहिष्कार के बाद दलित परिवारों को सार्वजनिक कुओं का इस्तेमाल नहीं करने दिया जा रहा है। साथ ही दलित परिवारों के दुकानों से सामान लेने और अपने बच्चों को स्कूल भेजने पर भी पाबंदी लगा दी गई है।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *