ताज़ा खबर :
prev next

पार्क से चोर उड़ा ले गए हिरण की मूर्तियाँ

ग़ज़ियाबाद में आये दिन चोरों के हौसले बुलंद होते नजर आ रहे हैं। आम जनता को ठगने और लूटने के बाद अब ये बदमाश सरकारी वस्तुओं को निशाना बना रहे हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है, गाज़ियाबाद के कोतवाली थाना क्षेत्र के निर्माणाधीन मेट्रो पिलर के नीचे जीडीए द्वारा बनाया गया पार्क है। पार्क से लुटेरे गार्ड को मारपीट कर हिरण की मूर्तियाँ लूट ले गए।

बीती रात दो स्कूटी सवार लुटेरे आये और पार्क में लगे हिरण की मूर्तियों को लूट ले गए पार्क पर मौजूद गार्ड ने उनका पीछा भी किया मगर वो पैदल क्या करता कुछ दूरी पर हाइवे पर खड़े पुलिस वालों को उसने घटना की जानकारी दी तो उन्होंने भी कुछ नही किया। घटना स्थल के पास बनी पुलिस चौकी पर जब गार्ड राजेश गया तो पुलिस ने उस पर ही मिलीभगत का आरोप लगा कर उसे भगा दिया।

पीड़ित गार्ड राजेश ने बताया कि, लुटेरे फिर तीन घण्टे बाद आये तो उसने 100 नम्बर पर फोन कर पुलिस को सूचना दी मगर, पुलिस के आने में देर हो गई। दूसरी बार चोरों को देखते ही गार्ड उन पर डंडा लेकर दौड़ गया। जिसमे दोनों में जमकर हाथापाई हुई और लुटेरे हिरण को ले जाने लगे जिस पर गार्ड ने भी हिरन को लूटने से बचाने के लिए हिरण का सींग पकड़ ली।

लुटेरों और गार्ड में काफी देर हिरन को लेकर खींचतान हुई इसी बीच गार्ड आते-जाते लोगों से मदद की गुहार भी लगाता रहा मगर उसकी मदद को कोई नहीं आया और लुटेरे हिरण को लूट कर फरार हो गए। लुटेरों ओर गार्ड की खींचतान में हिरण का एक सिंग टूट कर गार्ड के पास ही रह गया। पीड़ित की माने तो सौ कदम पर ही पुलिस चौकी है जहाँ पर सभी पुलिस कर्मी सो रहे थे। घटना के बाद से गार्ड खौफ में है। वहीं, गार्ड की शिकायत पर पुलिस ने मामले को दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस आरोपियों की छानबीन में जुटी हुई है।

28 अगस्त को जीडीए वीसी रितु माहेश्वरी ने इस पार्क का लोकार्पण किया था। मेरठ तिराहे पर लाखों रुपए खर्च करके जीडीए ने सौंदर्यीकरण का काम करवाया है। हिरण के पुतले चोरी होने से जीडीए के अफसरों की टेंशन बढ़ गई है, क्योंकि अभी वहां पर महंगे गमले रखे होने के साथ ही साथ कई कीमती चीजें लगी हुईं हैं। अब वहां पर सुरक्षा व्यवस्था को और मजबूत किए जाने की तैयारी चल रही है।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *