ताज़ा खबर :
prev next

हैवानियत की सभी हदें पार, रेप के बाद 12 वर्षीय किशोरी की गला रेत कर हत्या

वाराणसी में दरिंदों ने घर में घुसकर 12 वर्षीय किशोरी की गला रेत कर हत्या कर दी। उसके चेहरे और सिर पर भी चाकू से वार किए गए। किशोरी का शव निर्वस्त्र हालत में मिला। पुलिस दुराचार की आशंका जता रही है। यह वारदात रोहनिया थाना अंतर्गत एक गांव में बुधवार देर रात हुई। किशोरी अपने सात वर्षीय छोटे भाई के साथ अपने एक कमरे के घर के बाहर सोई थी, जबकि बड़ा भाई ऊपर छत पर सोया था। बच्चों की मां अपने मायके सारनाथ गई थी। गुरुवार सुबह सात बजे जब मां लौटी तो मामले का खुलासा हुआ। कमरे में जगह-जगह खून गिरा हुआ था।

मासूम बेटी की नृशंस हत्या के बाद मां और अन्य परिजनों के बिलखने की आवाज से जब सन्नाटा टूटता है, तब मौके पर जुटे लोगों का दिल उस परिवार पर टूटे पहाड़ की कल्पना मात्र से ही कांप उठा। जिसने भी हिम्मत कर कमरे में झांक कर शव को देखा तो चीख उठे। रात के अंधेरे में मासूम के साथ हुई हैवानियत पर लोगों का गु्स्सा फूट पड़ा। आक्रोशित ग्रामीणों ने मोहनसराय- अदलपुर मार्ग पर जाम लगा दिया।

रोहनिया थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली महिला बुधवार को अपने मायके गई हुई थी। घर पर उसके दो बेटे और एक बेटी थी। महिला गुरुवार की सुबह सात बजे के लगभग मायके से वापस आई तो उसके घर का दरवाजा बाहर से बंद था। दरवाजा खोल कर कमरे में सोई बेटी को जगाने के लिए पहुंची। उस कमरे में बेटी निर्वस्त्र और खून से लथपथ पड़ी हुई थी। किशोरी के बड़े भाई ने बताया कि बुधवार की रात वो छत पर सोने चला गया और छोटा भाई व बहन बाहर चारपाई पर सोये थे। रात तीन बजे के लगभग उसे लगा कि बहन रो रही है। इस पर उसने आवाज दी लेकिन कोई जवाब नही मिला तो वह दोबारा सो गया।

वारदात की जानकारी पाकर डीएम सुरेंद्र सिंह और एसएसपी आनंद कुलकर्णी अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे । इस संबंध में एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि, किशोरी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है। क्राइम ब्रांच की टीम को भी तफ्तीश के लिए बुलाया गया है। जल्द ही वारदात का खुलासा कर आरोपियों को जेल भेजा जाएगा।

इधर, सनसनीखेज वारदात से गुस्साए परिजनों और ग्रामीणों ने रोहनिया-अदलपुरा मार्ग पर बहोरनपुर गांव में जाम लगा दिया और हत्यारों की गिरफ़्तारी की मांग करने लगे। सूचना पाकर रोहनिया सहित चार थानों की फोर्स के साथ एसपी ग्रामीण मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों को समझा बुझाकर शांत कराया और जाम को खत्म कराया। तीन घंटे बाद 11 बजे के लगभग जाम खत्म हुआ और शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया। मां की तहरीर के आधार पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ रोहनिया थाने में हत्या सहित अन्य आरोपों और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस गांव और आसपास के इलाके के संदिग्ध गतिविधियों वाले सात आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

छात्रा की हत्या से गांव और आसपास के ग्रामीण खासे गुस्से में दिखे। छात्रा की मां कोे ढांढस बंधाने आई गांव की महिलाओं ने पुलिस से मांग की कि आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें फांसी की सजा दिलाई जाए। ग्रामीणों को समझाबुझाकर शांत कराने में पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *