ताज़ा खबर :
prev next

गाज़ियाबाद नगर निगम की नई पहल, जल्द ही औद्योगिक इकाइयों को मिलेगा ट्रीटेड पानी

बहुमूल्य भूजल को बचाने की दिशा में नई पहल करते हुए गाज़ियाबाद नगर निगम अब जिले की औद्योगिक इकाइयों को अपने एसटीपी प्लांटों से संवर्धित पानी (ट्रीटेड वॉटर) की सप्लाई करेगा। नगरायुक्त चन्द्र प्रकाश सिंह ने बताया कि इस परियोजना पर लगभग 451 करोड़ रुपए का खर्च आएगा और इस संबंध में तैयार दो डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट्स (डीपीआर) के आधार पर परियोजना का काम किया जा रहा है। यह पानी निगम के इंदिरापुरम और डुंडाहेड़ा स्थित एसटीपी प्लांटों से दिया जाएगा।

सोमवार को निगम मुख्यालय में हुई आपात बोर्ड बैठक में इन परियोजना को निगम पार्षदों की हरी झंडी मिल गई है। निगम के अधिकारियों ने बताया कि परियोजना पर राष्ट्रीय हरित अभिकरण के निर्देशानुसार काम किया जा रहा है। नगरायुक्त ने बताया कि परियोजना के पहले चरण में इंदिरापुरम स्थित एसटीपी प्लांट का पानी साहिबाबाद (साइट 4) और लोनी इंडस्ट्रियल एरिया की इकाइयों को दिया जाएगा। पहले चरण में प्रोजेक्ट की लागत 234 करोड़ रुपए है। दूसरे चरण में डुंडाहेड़ा एसटीपी प्लांट का पानी साउथ साइड ऑफ जीटी रोड, बुलंदशहर रोड और कवि नगर औद्योगिक क्षेत्र की इकाइयों को दिया जाएगा। परियोजना के दूसरे चरण की लागत 217 करोड़ रुपए है।

सीपी सिंह ने बताया कि इस परियोजना के लिए धन जुटाने के उद्देश्य से गाज़ियाबाद नगर निगम स्पेशल बॉन्ड जारी करने की योजना बना रहा है। परियोजना के विषय में गाज़ियाबाद के सभी प्रमुख औद्योगिक संगठनों से विस्तृत चर्चा की गई है। परियोजना से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि दो एसटीपी प्लांटों से हर दिन लगभग 80 मिलियन लीटर ट्रीटेड पानी सप्लाई किया जाएगा।

निगम पार्षद राजेन्द्र त्यागी ने बताया कि बोर्ड बैठक में हमने प्रस्ताव दिया है कि इस पानी का उपयोग ग्रीन बेल्ट की सिंचाई के लिए भी किया जाए। इसके अलावा इस पानी का उपयोग उन इकाइयों में भी किया जा सकता है जहां अभी तक ग्राउंड वाटर उपयोग में लाया जा रहा है।
निगम अधिकारियों ने बताया कि इस परियोजना को पूरा करने में लगभग दो साल का समय लगेगा। परियोजना पूरी होने के बाद पानी की सप्लाई के लिए टेंडर द्वारा कंपनी चुनी जाएगी। साहिबाबाद और लोनी इंडस्ट्रियल एरिया की इकाइयों को ₹14.15 प्रति किलोलीटर की दर से पानी दिया जाएगा जबकि डुंडाहेड़ा प्लांट से दिए जाने वाले पानी की दर ₹14 प्रति किलोलीटर होगी।

बुलंदशहर रोड औद्योगिक क्षेत्र के उद्यमियों की संस्था IAMA के महासचिव अनिल गुप्ता ने निगम के इस कदम का स्वागत करते हुए कहा कि गाज़ियाबाद के सभी उद्यमी पर्यावरण के प्रति बेहद जागरूक और सजग हैं। नगरायुक्त सीपी सिंह के इस प्रयास से भूजल दोहन में काफी कमी आयेगी और साथ ही निगम के एसटीपी प्लांटों में तैयार पानी का भी सदुपयोग होगा।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *