ताज़ा खबर :
prev next

बछड़ा पैदा होने पर बांटे 10 हज़ार कार्ड, 25 हज़ार लोगों की दावत का हो रहा है इंतजाम

उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले में गोवंश बचाने को लेकर एक अनोखी पहल सामने आई है। यहां के एक गांव में बछड़ा पैदा होने का जश्न धूमधाम से मनाने की तैयारी की जा रही है। जश्न भी ऐसा-वैसा नहीं बल्कि कार्ड छपवाकर मेहमानों को न्योता दिया जा रहा है। इसके साथ ही तकरीबन 25 हजार लोगों के भोजन का इंतजाम भी किया जा रहा है।

नवभारत टाइम्स की खबर के अनुसार अमेठी निवासी विनोद कुमार नाम के किसान ने यह अनोखी पहल शुरू की है। जनपद की सदर तहसील के गौरीगंज क्षेत्र के पूरे चंदईपुर गांव निवासी विनोद कुमार सिंह उर्फ झवेले सिंह गायपालक किसान हैं। फिलहाल उनके पास दो गाय हैं। इनमें से एक गाय ने बीते 16 जनवरी को एक बछड़े को जन्म दिया तो घर में सोहर का गीत हुआ और खुशियां मनाई गईं। किसान परिवार ने इस आयोजन को बिल्कुल इस तरह ही मनाया जैसे घर में किसी नवजात के आगमन पर जश्न मनाया जाता है।

परिवार इस खुशी को कुछ अलग तरह से मनाना चाहता था इसलिए इस जश्न में दूसरे लोगों को शरीक करने के लिए बड़ी दावत का इंतजाम किया गया। इसके लिए पंडित को बुलाकर शुभ मुहूर्त निकालकर आगामी 24 जनवरी को बाकायदा निकासन (जन्मोत्सव) की तारीख तय हुई। जिसके लिए 10 हजार कार्ड भी छपवा लिए गए और होर्डिंग भी लगवाई गई। यही नहीं क्षेत्र के कई गांवों में जाकर किसान परिवार की ओर से निमंत्रण दिया गया।
हालांकि यह दावत आम दावतों की तरह तरह तरह के पकवानों वाली नहीं होगी बल्कि यहां भंडारे का आयोजन किया जाएगा। विनोद कुमार की इस खुशी में गांववाले भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। भंडारे के लिए तैयारियां की जा रही हैं। भंडारे के बाद गांव में लोक संगीत और नौटंकी का आयोजन भी किया गया है। खास बात यह है कि बछड़े के जन्म के बाद से ही घर में गांव की महिलाओं द्वारा प्रत्येक शाम को इकट्ठा होकर सोहर गीत गाए जा रहे हैं।

विनोद कुमार ने बताया कि जो लोग गाय की पूजा करते हैं, उसका दूध पीते हैं या बेचते हैं लेकिन बछड़ा होने पर उसे कटने-मरने के लिए सड़कों पर बेसहारा छोड़ देते हैं, हमारी यह मुहिम ऐसे लोगों को सही राह दिखाने के लिए है। गोमाता या गोवंश हमारे ऊपर भार नहीं बल्कि हमारी जिम्मेदारी है। जब हमारे घर में बच्चा होता है तो हम खुशियां मनाते हैं तो फिर गोमाता के संतान होने पर क्यों परेशान होकर उसे मरने के लिए छोड़ दें।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *