ताज़ा खबर :
prev next

मैं डरता नहीं हूँ, यही फर्क है मुझमें और पीएम नरेंद्र मोदी में – राहुल गांधी

राजस्थान के अजमेर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज अखिल भारतीय कांग्रेस सेवादल की बैठक को संबोधित किया। इस बैठक में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी राहुल गांधी के साथ मौजूद रहे।

राहुल गांधी ने जीएसटी और नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जैसे ही हमारी सरकार तीन राज्यों में सत्ता में आई हमने किसानों के कर्ज माफ किए, लेकिन केंद्र सरकार गरीबों और किसानों के लिए नहीं बल्कि कुछ चुनिंदा दोस्तों के लिए काम करती है। वो गब्बर सिंह टैक्स लेकर आए और लोगों को एटीएम की लाइनों में खड़ा करा कर परेशान किया।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मेरे और पीएम मोदी में एक फर्क है कि मैं डरता नहीं हूँ। लेकिन, वो अपना डर दिखा नहीं सकते इसलिए वो नफरत दिखाते हैं। मैं सब को कहना चाहता हूं कि डरने की जरूरत नहीं है। जब मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गले मिला तो मेरे दिल में उनके लिए नफरत नहीं थी। यह देश नफरत का देश नहीं, यह देश प्यार का देश है। मोदी ने मेरा, मेरे परिवार का और कांग्रेस पार्टी का अपमान किया लेकिन संसद में मैंने उन्हें गले लगाया। नफरत को केवल प्रेम से ही पराजित किया जा सकता है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आज देश में विचारधारा की लड़ाई है. एक तरफ आरएसएस, बीजेपी और दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी की विचारधारा है। पूरा देश जानता है कि चौकीदार ने अनिल अंबानी की चौकीदारी की, 10-15 उद्योगपतियों की चौकीदारी की. हमने राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक और पंजाब में किसानों का कर्ज माफ किया, जब कि पीएम मोदी ने अनिल अंबानी, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के तीन लाख 50 हजार करोड़ के लोन माफ किए।

उन्होंने कहा, ‘भले ही बीजेपी और मोदी कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हों लेकिन हम 2019 में उन्हें हराएंगे, हम उन्हें मिटाएंगे नहीं।’ उन्होंने कहा कि भाजपा के लिए हिंदुस्तान एक प्रोडक्ट है लेकिन कांग्रेस इसे ऐसा समंदर मानती है जो सब लोगों से मिलकर बना है। कांग्रेस अध्यक्ष ने सेवादल को पार्टी का महत्वपूर्ण संगठन बताते हुए कहा कि सेवादल पार्टी की विचारधारा का रक्षक है और हमारा सबसे जरूरी संगठन है। लेकिन कांग्रेस पार्टी के परिवार में जो जगह और आदर सेवादल को मिलना चाहिए था वह नहीं मिला. इसके लिए मैं माफी मांगता हूं।

उन्होंने कहा कि आरएसएस की नफरत और बांटने की सोच का मुकाबला सेवादल प्यार और गले लगाने की सोच के साथ करे। सेवादल का महाधिवेशन लगभग तीन दशक बाद आयोजित हुआ है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने भी सम्मेलन को संबोधित किया।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *