ताज़ा खबर :
prev next

मुंबई : फुटओवर ब्रिज गिरने से 6 लोगों की मौत, रेलवे और BMC अधिकारियों खिलाफ FIR दर्ज

मुंबई के सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसएमटी) से डी.एन.रोड के दूसरी ओर ले जानेवाले फुटओवर ब्रिज का आधा सीमेंट स्लैब गुरुवार शाम 7.30 बजे भरभराकर गिर गया।

इस दुर्घटना में 6 लोगों की मौत हो गई और 30 से अधिक लोग घायल हो गए।हादसे में मृतकों के परिजनों के लिए महाराष्‍ट्र सरकार ने 5-5 लाख रुपए एवं घायलों के लिए 50-50 हज़ार रुपए के मुआवजे की घोषणा की है। इसके अलावा सरकार ने रेलवे और बीएमसी के अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

यह ‘कसाब पुल’ कहलाता है, क्योंकि 2008 में 26/11 के आतंकी हमले के दौरान इसी रास्ते से आतंकी कसाब कॉमा अस्पताल पहुंचा था। दुर्घटना के बाद यह मार्ग बंद कर दिया गया।

हादसे के कुछ देर बाद ही घटनास्थल पर पहुंचे दमकल और पुलिसकर्मियों ने घायलों को निकट के सेंट जॉर्ज एवं जीटी अस्पताल पहुंचाया। मरने वाले छह लोगों में तीन महिलाएं हैं। जिस समय यह ब्रिज गिरा, तब ब्रिज पर उसके नीचे भी सबसे ज्यादा भीड़ होती है। कफी लोग भी चपेट में आए। मलबे के नीचे आई एक टैक्सी बिल्कुल पिचक गई। स्थानीय लोगों ने बताया कि, जब पुल गिरा उस वक़्त पास की सड़क पर लाल सिग्नल था, अन्यथा कई लोग निश्चित रूप से मलबे के नीचे दब गए होते।

वहीं, इस बड़े हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, मुंबई में फुट ओवरब्रिज दुर्घटना के कारण लोगों की जान चली गई। मेरे संवेदनाएं पीड़ित पारिवारों के साथ हैं और घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

रेलवे सूत्रों के मुताबिक, इस ब्रिज के मलबे में अभी भी कई लोगों के दबे होने की आशंका है, जिसे देखते हुए इलाके में बड़े स्तर पर राहत कार्य शुरू कराए गए हैं। उन्होंने बताया कि ब्रिज का निर्माण कार्य रेलवे ने कराया था, लेकिन रखरखाव की जिम्मेदारी बीएमसी की ही थी।

 

 

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *