ताज़ा खबर :
prev next

तुलसी निकेतन के 2293 फ्लैटों को ध्वस्त करेगा निगम

गाज़ियाबाद के टीएचए में तुलसी निकेतन के 2293 फ्लैट्स को तोड़कर उनकी जगह पर नए टावर खड़े करने के संबंध में कमिटी ने अपनी रिपोर्ट जीडीए वीसी को सौंप दी है। बैठक में फैसला लिया गया है कि जर्जर भवनों को खाली कराकर उन्हें ध्वस्त करने का काम एक्ट के अनुसार नगर निगम करेगा। निगम ही यहां रहने वाले लोगों को घर खाली करने के लिए नोटिस जारी करेगा।

गौरतलब है कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया की तरफ से किए गए सर्वे में यहां के सभी भवन जर्जर बताए गए थे। रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि इन भवनों की हालत इतनी जर्जर है कि इनकी मरम्मत में पुनर्निमाण से अधिक रुपये लगेंगे।

हालांकि बैठक में यह तय नहीं हो पाया कि पुराने आवंटियों को नए टावर कैसे आवंटित किए जाएंगे। उनके स्वामित्व का हस्तांतरण कैसे होगा। इस पर अगली बैठक में जीडीए का लॉ डिपार्टमेंट अपना प्रस्ताव प्रस्तुत करेगा। भवनों को खाली कराने के लिए सिटी मैजिस्ट्रेट की ओर से भी तुलसी निकेतन के भवनों में रहने वालों को पत्र जारी करवाया जाएगा।

इस योजना में जो बाकी निजी भवन हैं, उनके पुनर्विकास की जिम्मेदारी जीडीए की नहीं होगी। तुलसी निकेतन का लेवल मुख्य मार्ग से 2.5 फुट नीचे है। ऐसे में नए टावर निर्माण के साथ यहां ड्रेनेज, जलापूर्ति, सीवरेज, बिजली जैसी सभी सुविधाओं का दोबारा निर्माण करना होगा। नए भवन 100 वर्ग में 2 बीएचके होंगे। जीडीए एयरपोर्ट अथॉरिटी के कहने के अनुसार एफएआर कम कर सकता है। बहुमंजिला इमारतों को बनाने के लिए यह फैसला लिया गया। इसमें बनीं 60 दुकानों को भी ध्वस्त किया जाएगा।

 

 

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *