ताज़ा खबर :
prev next

राष्ट्रीय शोक पर नगर निगम में लगे में रागनी के ठुमके

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रीकर के निधन पर सोमवार को पूरा देश शोक में डूबा रहा। राष्ट्रीय शोक घोषित होने के बावजूद नगर निगम मुख्यालय परिसर में रागनी के ‘राग’ छेड़े गए। कलाकारों के साथ कर्मचारी नेताओं ने ठुमके लगाए। नगर निगम कर्मचारी संघ की ओर से आयोजित होली मिलन समारोह में कर्मी इनाम के रूप में कलाकारों को नोट दिखाते नजर आए। राष्ट्रीय शोक घोषित होने की जानकारी रहते हुए मेयर आशा शर्मा, नगर आयुक्त दिनेश चंद्र, तमाम सत्तारूढ़ पार्टी के पार्षद इस समारोह में शरीक हुए। मामला तूल पकड़ने पर जांच के आदेश दे दिए गए हैं। हालांकि, समारोह के दौरान दो मिनट का मौन रख गोवा के दिवंगत मुख्यमंत्री मनोहर पर्रीकर की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना भी की गई।

होली मिलन समारोह का आगाज शपथ ग्रहण के साथ हुआ। मंच से नगर आयुक्त और मेयर ने समारोह में उपस्थित लोगों को पॉलीथिन का प्रयोग न करने और आसपास सफाई रखने की शपथ दिलवाई। होली पर पानी का दुरुपयोग न करने का संकल्प दिलवाया। फिर कुछ देर भक्ति गीतों का सिलसिला चला। बृज के कलाकारों ने फूलों की होली खेली। होली गीतों पर मेजबान नगर निगम कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने बृज के कलाकारों के साथ ठुमके लगाए। इसके बाद रागनी का ‘राग’ शुरू हुआ। गायक रागनी गाते रहे। अभद्र तरीके की प्रस्तुति मंच पर दी गई। इस पर कलाकरों को खूब नोट दिखाए गए। इतना सब राष्ट्रीय शोक के दौरान नवयुग मार्केट स्थित नगर निगम मुख्यालय परिसर में हुआ। सत्तारूढ़ पार्टी के पार्षद इस समारोह का हिस्सा बने रहे। मामला तूल पकड़ने लगा तो मेयर आशा शर्मा ने कहा कि वह दो मिनट के मौन में शामिल होने और गोवा के दिवंगत मुख्यमंत्री को श्रद्धासुमन अर्पित करने गई थीं। कार्यक्रम उनके सामने समाप्त हो गया था। बाद में मेरे संज्ञान में आया कि वहां रागनी का कार्यक्रम हुआ। इस बारे में जांच करने के लिए नगर आयुक्त को निर्देशित किया गया है। मैं जब तक कार्यक्रम में उपस्थित रहा किसी तरह का नृत्य और गायन नहीं हुआ। मेरे सामने शोक सभा आयोजित की गई थी। मेरे जाने के बाद वहां रागनी और नृत्य हुआ। इस मामले में अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार को जांच सौंपी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *