ताज़ा खबर :
prev next

खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने पकड़ा 100 कुंतल नकली मावा, बागपत से जा रहा था दिल्ली

गाज़ियाबाद में लोनी ट्रॉनिका सिटी थाना क्षेत्र में खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने सोमवार सुबह दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर मंडोला गांव के पास तीन मिनी ट्रकों में लदा करीब 100 कुंतल मिलावटी मावा पकड़ा है। जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजेश अग्रहरि ने बताया कि मावा के सैंपल भरकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि होली के त्योहार के चलते इस मावा को बागपत से दिल्ली ले जाया जा रहा था। जब्त किए गए मिलावटी मावा की बाजार में कीमत करीब 18 लाख रुपये बताई गई है। रिपोर्ट आने के बाद इस मामले में कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

एसडीएम आदित्य प्रजापति ने बताया कि खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने मुखबिर की सूचना पर सोमवार सुबह करीब 10 बजे बागपत से दिल्ली ले जाए जा रहे मावा से लदे तीन मिली ट्रकों को चेकिंग के लिए रोका। जांच में मावा मिलावटी पाया गया। इसके बाद विभाग की टीम ने तीनों मिनी ट्रकों से 11 सैंपल भरकर जांच के लिए लैब भेज दिए। एसडीएम ने बताया कि मिलावटी मावा को मंडोला गांव के पास ही जेसीबी मशीन से गड्ढा खोदकर दबवा दिया गया है।

मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी एनएन झा ने बताया कि स्क्मिड मिल्क पाउडर को पानी में घोलकर कढाहों में पकाया जाता है। मावा में चिकनाई पैदा करने के लिए इसमें रिफाइंड तेल भी मिलाया जाता है। आधे-एक घंटे तक पकने के बाद यह हूबहू दूध से बना मावा बन जाता है। इसके अलावा शकरकंद, सिंघाड़े का आटा, आलू और मैदे का इस्तेमाल करके भी नकली मावा बनाया जाता है। मावा का वजन बढ़ाने के लिए इसमें स्टार्च और आलू मिलाया जाता है। कुछ लोग मावा में घटिया किस्म के स्किम्ड मिल्क पाउडर के अलावा इसमें टेल्कम पाउडर, चूना, चॉक और सफेद केमिकल्स जैसी चीजों को भी मिलाते हैं। ऐसे मावा से बनी मिठाइयों से किडनी और लिवर पर भी बुरा असर पड़ता है।

 

 

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *