ताज़ा खबर :
prev next

उत्तर प्रदेश में अब बोट के बाद ट्रेन यात्रा करेंगी प्रियंका गांधी वाड्रा

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की खोई हुई जमीन तलाशने के लिए पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा बोट यात्रा के बाद अब ट्रेन यात्रा करेंगी। इसके जरिए प्रियंका लोकसभा चुनाव प्रचार करेंगी। इससे पहले उन्होंने प्रयागराज से वाराणसी तक बोट से गंगा यात्रा की थी। पार्टी सूत्रों का दावा है कि प्रियंका जल्द ही दिल्ली से कानपुर तक की यात्रा करेंगी। इसके बाद वह अयोध्या भी जा सकती हैं। उनकी यह यात्रा अगले सप्ताह प्रस्तावित है।

प्रयागराज से वाराणसी तक गंगा नदी मार्ग से बोट यात्रा के जरिए पूर्वांचल में कांग्रेस के लिए माहौल बनाने गईं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी अब मध्य यूपी को मथने की रणनीति पर काम कर रही हैं। उन्होंने वाराणसी से नई दिल्ली के लिए रवाना होने से पहले ही होली के बाद कार्यक्रम तय करने के निर्देश दे दिए थे। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा की यात्रा को अंतिम रूप दिया जा रहा है। ट्रेन यात्रा के दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा रास्ते मे पड़ने वाले सभी पार्टी कार्यकर्ताओ के लिए प्रचार करेंगी।

ट्रेन यात्रा के साथ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के फैजाबाद से उन्नाव तक के कार्यक्रम को भी अंतिम रूप दिया जा रहा है। चुनाव प्रचार के दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा पर रायबरेली और अमेठी की जिम्मेदारी भी है। इसलिए बीच मे वक्त निकालकर प्रियंका अमेठी और रायबरेली में भी प्रचार करेंगी।

इससे पहले, प्रियंका गांधी वाड्रा ने 18 मार्च को प्रयागराज में संगम तट पर पूजन-अर्चन के बाद बोट यात्रा शुरू कर चुनाव प्रचार का आगाज किया था। उनकी यह यात्रा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी तक थी। तीन दिन की करीब 140 किलोमीटर की यात्रा में उन्होंने तकरीबन आधा दर्जन लोकसभा क्षेत्रों के मतदाताओं से मुलाकात की थी। प्रिंयका ने प्रमुख मंदिरों में पूजा की और दरगाह भी गईं। पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर उनमें जोश भरा तो मल्लाहों से लेकर छात्रों तक से सीधे संवाद किया। ट्रेन यात्रा के दौरान भी रास्ते मे वह अलग-अलग समूहों से मुलाकात करेंगी।

मध्य यूपी को मथेंगी प्रियंका
दिल्ली से कानपुर तक की उनकी प्रस्तावित यात्रा के कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसके अलावा फैजाबाद से उन्नाव तक के सेन्ट्रल यूपी के कार्यक्रम को भी फाइनल किया जा रहा है। माना जा रहा है कि प्रियंका इस दौरान एक बार फिर न केवल भाजपा के गढ़ माने जाने वाली मध्य यूपी को मथेंगी, बल्कि अयोध्या जाकर एक अलग संदेश भी देंगी। सेंट्रल यूपी भी कभी कांग्रेस का अच्छा वर्चस्व रहता था। पिछले 2014 के चुनाव में सेंट्रल यूपी की 17 सीटों में भाजपा ने 14 लोकसभा सांसदों को जीत मिलीं। वर्ष 2009 में इस बेल्ट में कांग्रेस को 11 सीटें मिली थीं।

ये सीटे हैं मध्य यूपी में
कानपुर नगर, लखीमपुरखीरी, सीतापुर, मिश्रिख, हरदोई, लखनऊ, मोहनलालगंज, उन्नाव, रायबरेली, अमेठी, सुलतानपुर, प्रतापगढ़, अकबरपुर, फैजाबाद, बाराबंकी कैसरगंज और गोंडा।

 

 

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *