ताज़ा खबर :
prev next

शाबाश गाज़ियाबाद : आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी तो छोड़ी पढ़ाई, चीन में जीता गोल्ड

कौन कहता है कि कड़े संघर्षों में जिंदगी में मुकाम हासिल नहीं किया जाता है। परिवार की आर्थिक स्थिती ठीक नहीं होने के बाद भी चीन में 12 मई को आयोजित पैरा एथलेटिक्स प्रतियोगिता में गाज़ियाबाद की मोदीनगर गोयलपुरी कॉलोनी निवासी सिमरन ने 100 मीटर में गोल्ड मेडल जीता। मंगलवार को शहर आगमन पर सिमरन का भव्य स्वागत किया गया। चेयरमैन अशोक माहेश्वरी समेत तमाम गणमान्य लोगों ने खिलाड़ी को घर पहुंचकर सम्मानित किया व बधाई दी।

मंगलवार को चीन से लौटकर मोदीनगर में अपने घर पहुंची खिलाड़ी ने बताया कि उन्होंने पैरा एथलेटिक्स प्रतियोगिता में 12 सेंकेंड में 100 मीटर में जीत दर्ज कराकर गोल्ड पर कब्जा जमाया। दूसरे स्थान पर जापान की खिलाड़ी रही थी। सिमरन की शादी नवंबर 2017 में खंजरपुर गांव में हुई थी। सिमरन ने बताया कि आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण उनको अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़नी पड़ी।

सिमरन ने हाई स्कूल तक की पढ़ाई रूक्मिणी मोदी महिला इंटर कॉलेज से की। उनके पिता मनोज शर्मा एक डाक्टर के यहां कंपाउडर की नौकरी करते थे। बीमारी के चलते उन्हें पिछले दिनों यह नौकरी छोड़नी पड़ी। सिमरन ने बताया कि उनका सपना पैरा ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतकर मोदीनगर का नाम देश दुनिया में रोशन करने का है। इसी के चलते वे लगातार मेहनत कर रही हैं। सिमरन ने बताया कि इस उपलब्धि के बाद वे पेरिस में आयोजित होने वाली पैरा अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए जाएंगी।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *