ताज़ा खबर :
prev next

झारखंड से लाए गए 14 बच्चों को बाल मजदूरी से कराया मुक्त, ठेकेदार गिरफ्तार

गाज़ियाबाद के मोदीनगर थाना क्षेत्र में पुलिस ने सोमवार को दिल्ली-मेरठ हाइवे स्थित कादराबाद चेकपोस्ट पर 14 बाल श्रमिकों को ठेकेदारों के चंगुल से मुक्त कराया। ये बालक झारखंड से गेहूं कटाई के लिए पांच हजार रुपये प्रतिमाह वेतन पर लाए गए थे। इनकी उम्र 10 से 15 वर्ष के बीच बताई गई।

कोतवाली एसएचओ संजीव शर्मा ने बताया कि चाइल्ड केयर संस्था आशा ज्योति की शिकायत पर गाज़ियाबाद सीमा पर मेरठ-दिल्ली हाइवे स्थित कादराबाद चेकपोस्ट पर बालकों को ले जा रही बस को रोकवाकर तलाशी ली गई। बस में बैठे 14 बालकों को पूछताछ के लिए उतार लिया गया। पूछताछ में जानकारी हुई कि मुजफ्फरनगर निवासी ठेकेदार और उसका साथी झारखंड के कई क्षेत्रों से गेहूं की कटाई करवाने के लिए पांच हजार रुपये प्रतिमाह तय करके मंसूरपुर में लाए थे। काम समाप्त होने के बाद उन्हें बस से दिल्ली ले जा रहे थे।

पुलिस ने ठेकेदार और उसके साथी को हिरासत में लेकर पुलिस ने पूछताछ कर रही है। इस दौरान दोनों ने भागने का प्रयास भी किया। एएसपी बीबीटीएस मूर्ति ने बरामद बच्चों से बातचीत की है। फिलहाल, सभी बच्चों को चाइल्ड केयर संस्था के हवाले कर दिया गया है। पुलिस का कहना है कि इस पूरे रैकेट के अन्य लोगों की जानकारी की जा रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *