ताज़ा खबर :
prev next

5वीं पास चला रहा था ठगी का हाईटेक गैंग, 4 दबोचे

डेबिट और क्रेडिट कार्ड को विभिन्न बैंकों से कनेक्ट करके एक लाख रुपये तक की शॉपिंग करने का लालच देकर खाते से रुपये निकालने वाले ठगों के हाईटेक गैंग के 4 शातिरों को एसटीएफ नोएडा ने कविनगर पुलिस की मदद से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों के पास से 3 मोबाइल, विभिन्न बैंकों के खाताधारकों का डेटा और खातों से संबंधित कागजात बरामद हुए हैं। आरोपी अब तक 1500 से अधिक वारदात को अंजाम दे चुके हैं।

सीओ एसटीएफ राजकुमार मिश्रा ने बताया कि ठगों के इस गैंग में 10 से 12 लोग शामिल हैं, जिनमें कुछ महिलाएं भी हैं। गैंग के सदस्यों ने मोबीक्विक और पेटीएम वॉलेट पर खाते बना रखे हैं। इसके अलावा कुछ खाता धारकों से उनके खाते एक तरह से किराए पर ले रखे हैं। खातों का इस्तेमाल करने के लिए गैंग के लोग उन खाताधारकों को 10 प्रतिशत कमीशन देते हैं। गैंग में मनी मंत्रा और खुद को एसबीआई में कार्यरत बताने वाले दो युवक भी शामिल हैं। जो गैंग को विभिन्न बैंकों के खाताधारकों का डेटा मुहैया करवाते थे। इसके लिए दोनों आरोपी गैंग के सरगना से प्रति खाता एक रुपया चार्ज करते थे।

जांच के दौरान सूचना मिली कि सोमवार रात गाज़ियाबाद के कविनगर में डायमंड बैंक्विट हॉल के पास बैंक के डेटा का लेनदेन होने वाला है। इस सूचना पर एसटीएफ ने कविनगर पुलिस के सहयोग से मौके से संजीत उर्फ संदीप, बलदेव, तपेश्वर उर्फ राहुल चौधरी और गजेंद्र उर्फ राहुल उर्फ राजवीर को गिरफ्तार कर लिया। चारों बदमाशों से 3 मोबाइल, 50 हजार खाताधारकों का डेटा और विभिन्न बैंकों के खातों से जुड़े दस्तावेज बरामद हुए हैं। डेटा में सिटी बैंक, एसबीआई, एक्सेस, आरबीएल, इंडसइंड और आईसीआईसीआई बैंकों के खाता धारकों का डेटा है।

पुलिस ने बताया कि गिरोह का सरगना संदीप उर्फ संजीत (30) महज 5वीं पास है। दो साल पहले तक वह फूल बेचकर गुजारा करता था। इसी दौरान उत्सव त्यागी नाम के युवक ने उसे बैंक खातों से ठगी करना सिखाया था। जिसके बाद उसने अपना गैंग बना लिया। उसके गैंग में शामिल बलदेव (20) भी महज 9वीं पास है। बलदेव हापुड़ में सिक्युरिटी सर्विस के नाम से कंपनी चलाता है। वह गैंग को मोबाइल सिम भी मुहैया करवाता है। वहीं, राहुल चौधरी (26) 12वीं पास है। वह मोबीक्विक और पेटीएम पर फर्जी खाते बनाने का काम करता था। गजेंद्र उर्फ राहुल ने गिरोह को अपना सेविंग अकाउंट 10 प्रतिशत कमीशन पर किराए पर दे रखा है। फिलहाल आरोपियों से अन्य घटनाओं की जानकारी ली जा रही है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *