ताज़ा खबर :
prev next

गंगा स्नान से पाप मुक्ति और धन लाभ भी : राजेश पाण्डेय

मुरादनगर। ज्येष्ठ शुक्ल दशमी पर गंगा स्नान कर वाचिक, मानसिक और कायिक पापों के शमन की धार्मिंक मान्यता 12 जून को निभायी जाएगी, क्योंकि इस दिन पृथ्वी पर गंगा के अवतरित होने की यह तिथि यानि गंगा दशहरा मनाई जाएगी। इस बाबत ज्योतिषाचार्य पं. राजेश पाण्डेय बताते है कि शास्त्रों में वर्णित कथानुसार कपिल मुनी के श्राप से भस्म हुए सगर के 60 हजार पुत्रों के उद्धार के लिए सगर की पांचवीं पीढ़ी के भगीरथ ने ब्रह्म की तपस्या से गंगा को पृथ्वी पर लाने का अथक प्रयास किया। भगवान शंकर ने गंगा की प्रचण्ड धाराओं को अपनी जटाओं में बांधा और एक लट खोलकर एक धारा को मुक्त किया तो गंगा की प्रवाहमान धाराओं ने भगीरथ के पुरखों को मुक्ति दी और गंगासागर से मिल गई।

तीन प्रकार के पापों का शमन:
ज्येष्ठ शुक्ल दशमी को हस्त नक्षत्र में स्वर्ग से पृथ्वी पर गंगा का अवतरण हुआ था। गंगा मनुष्यों के 10 पापों यथा, तीन प्रकार के मानसिक, चार प्रकार के वाचिक और तीन प्रकार के कायिक पापों का नाश करती हैं। इसी कारण यह तिथि गंगा दशहरा के रूप में वंदनीय और पूजनीय हुआ। पुराण के अनुसार जो मनुष्य गंगा दशहरा पर गंगा जल में खड़े होकर 10 बार गंगा स्त्रोत पढ़ता है, चाहे वह दरिद्र हो या समर्थ, उसको सभी तरह के पुण्य फल की प्राप्ति होती है। गंगा स्नान नहीं कर पाने की स्थिति में शुद्ध जल, नदी, सरोवर आदि में स्नान कर गंगा स्त्रोत पाठ करने से भी पुण्यफल की प्राप्ति होती है।

स्नान के पश्चात पूजन विधान:
गंगा स्नान के पश्चात शुद्ध पात्र में त्रिनेत्र चतुभरुज सर्वावय वभूषित रत्न कुंभधारिणी वस्त्रों से सुशोभित तथा वर व अभय मुद्रा से युक्त गंगा माता की प्रतिमा स्थापित कर या पूर्व से स्थापित गंगा प्रतिमा के समक्ष बैठकर माता गंगा के आह्वान संग षोडशोपचार या पंचोपचार पूजन करना चाहिए। माता रानी को पांच प्रकार के पुष्पों की माला, 10 प्रकार के फल, 10 दीपक व 10 सेर तिल गंगाय नम:Ó पढ़ते हुए दान करें। इसके साथ ही घी मिश्रित सत्तू और गुड़ का पिण्ड माता रानी को चढ़ाकर गंगाजल में प्रवाहित करें। माता गंगा की आराधना में दशहरा स्त्रोत तथा गंगाजी के मंत्र का पाठ करना चाहिए।

तिथि एवं समय:
ज्येष्ठ शुक्ल दशमी 11 जून, मंगलवार 8 बजकर 20 मिनट से लगेगी, जो कि बुधवार 12 जून , बुधवार करीब 6 बजकर 27 सायं बजे तक रहेगी।

 

 

 

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *